जेवर एयरपोर्ट से कितनी आमदनी होगी, यह जानकर आपको हैरानी होगी

Updated Mar 01, 2020 13:18:29 IST | Tricity Today Chief Correspondent

जेवर एयरपोर्ट उत्तर प्रदेश सरकार और गौतमबुद्ध नगर के तीनों विकास प्राधिकरण को मालामाल कर देगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि ग्रेटर नोएडा में प्रस्तावित जेवर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का...

Photo Credit:  Tricity Today
प्रतीकात्मक फोटो
Key Highlights
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया, यूपी के लिए 30 वर्षों में एक ट्रिलियन रुपये कमाकर देगा जेवर एयरपोर्ट
जेवर एयरपोर्ट से अगले 20 वर्षों में करीब 11 लाख लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार के अवसर मिलेंगे

जेवर एयरपोर्ट उत्तर प्रदेश सरकार और गौतमबुद्ध नगर के तीनों विकास प्राधिकरण को मालामाल कर देगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि ग्रेटर नोएडा में प्रस्तावित जेवर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का निर्माण ज्यूरिख एयरपोर्ट इंटरनेशनल करेगा। इस एयरपोर्ट से वर्ष 2030 तक उत्तर प्रदेश को एक ट्रिलियन रुपये की आमदनी होगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी विधानसभा में बोलते हुए योगी आदित्यनाथ ने बताया कि पिछले दो दशकों के दौरान इस परियोजना में कुछ नहीं किया गया। 20 वर्षों से परियोजना लटकी पड़ी हुई थी। सीएम ने कहा, हमारी सरकार ने विकास का एक मॉडल तैयार किया है। जमीन के मालिक किसानों ने स्वेच्छा से अपनी जमीन एयरपोर्ट परियोजना के लिए दी है। जबकि, पिछली सरकारों में विकास योजनाओं में बिचौलिए हावी थे।

सीएम ने दावा किया कि पिछले तीन वर्षों में राज्य में 2.5 ट्रिलियन यानी ढाई लाख करोड़ रुपये का निजी निवेश आया है, जिससे 3.3 मिलियन (33 लाख) लोगों के लिए रोज़गार और स्वरोजगार के अवसर पैदा हुए हैं। इससे पहले कोई भी निवेशक यूपी में आने के लिए तैयार नहीं था। हमने पारदर्शी शासन और अच्छी कानून व्यवस्था दी है। जिससे निजी निवेशक उत्तर प्रदेश की ओर आकर्षित हो रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यूपी के वार्षिक बजट 2020-21 में कृषि, बुनियादी ढांचा, औद्योगिक विकास, कौशल विकास, स्वास्थ्य, शिक्षा आदि सहित अर्थव्यवस्था के सभी प्रमुख क्षेत्रों को वित्त पोषण की पर्याप्त गुंजाइश प्रदान की गई। आदित्यनाथ ने विपक्ष से जवाब मांगते हुए कहा, "1947 में यूपी की प्रति व्यक्ति आय राष्ट्रीय औसत से अधिक थी, लेकिन लगातार 70 वर्षों के दौरान इसमें गिरावट जारी रही और आज यह राष्ट्रीय औसत यूपी की प्रति  व्यक्ति आय से अधिक है।

सीएम ने कहा कि उनकी सरकार ने राजस्व रिसाव को बंद करके और भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाकर राजस्व संसाधनों का विस्तार किया है। जब हमारी सरकार मार्च 2017 में सत्ता में आई थी तो राज्य का कर (मूल्य वर्धित कर) राजस्व 51,882 करोड़ रुपये था। अब गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) के तहत राज्य कर वर्ष 2020-21 में 91,000 करोड़ रुपये का अनुमान है।

UP Govt, Jewar Airport, Yogi Adityanath, Uttar Pardesh CM, Noida, Yamuna Authority, Noida Authority, Greater Noida Authority