विरोध : नोएडा-ग्रेनो के बीच 10 स्टेशनों पर मेट्रो नहीं रोकने से नाराज लोगों ने प्रदर्शन किया, दी चेतावनी

नोएडा-ग्रेनो के बीच 10 स्टेशनों पर मेट्रो नहीं रोकने से नाराज लोगों ने प्रदर्शन किया, दी चेतावनी

Tricity Today | नाराज लोगों ने प्रदर्शन किया

  • -सेक्टर-101 से सेक्टर-50 तक शांतिपूर्ण मार्च निकालना चाहते थे लोग
  • -जिले में धारा-144 के कारण यात्रा के लिए प्रशासन ने अनुमति नहीं दी 
  • -लोगों ने कहा- सभी स्टेशनों पर मेट्रो रोकें, नहीं तो आंदोलन की चेतावनी
एक तरफ पेट्रोल दिन प्रतिदिन महंगा होता जा रहा। आये दिन सड़कों पर जाम की समस्या लगी रहती है। ऑटो वालों की मनमानी बंद होने का नाम नहीं ले रही है। ऊपर से अब पीक ऑवर में दस मेट्रो स्टेशन बंद कर दिए गए हैं। इससे आम लोगों की परेशानी काफी बढ़ गई है। खासकर स्कूल और ऑफिस खुल जाने के बाद महिलाओं व बच्चों को मेट्रो पकड़ने के लिए इधर-उधर भटकना पड़ रहा है। रविवार को यह सारी बातें शहर के लोगों ने कहीं जो सेक्टर-101 मेट्रो स्टेशन पर विरोध प्रदर्शन करने आए थे।

एनएमआरसी और नोएडा प्राधिकरण ने व्यस्तम घंटों के दौरान शहर के 10 स्टेशनों पर मेट्रो का ठहराव बंद कर दिया है। इस निर्णय के विरोध में आज बड़ी संख्या में लोगों ने एक्वा लाइन के मेट्रो स्टेशन-101 पर विरोध प्रदर्शन किया। सुबह 9 बजे से ही लोग मेट्रो स्टेशन पर जमा होना शुरू हो गए थे। वहां उपस्थित मेट्रो अधिकारी को ज्ञापन सौंपने के बाद लोग मेट्रो से यात्रा करते हुए ट्रांसजेंडर स्टेशन सेक्टर-50 तक जा रहे थे। इन लोगों का कहना है, "हम वहां के अधिकारी को भी ज्ञापन देना चाहते थे, लेकिन वहां उपस्थित मेट्रो अधिकारी प्रभुनाथ भारती और थाना प्रभारी राजीव कुमार ने मेट्रो से शांतिपूर्वक यात्रा करने की अनुमति नहीं दी। ना ही वहां उपस्थित अधिकारियों से कोई लिखित आश्वासन मिला।"

गौरतलब है कि सेक्टर-101, 50 सहित 10 मेट्रो स्टेशन को पीक ऑवर में बन्द कर दिया गया है। ट्विटर पर भी पिछले कई दिनों से बंद मेट्रो स्टेशन को पुनः खोले जाने की मांग लगातार उठाई जा रही हैं। लोगों का कहना है कि एनएमआरसी, नोएडा प्राधिकरण और जनप्रतिनिधियों की चुप्पी से लोग निराश व क्षुब्ध होकर बार-बार प्रदर्शन के लिए मजबूर हो रहे हैं। आसपास की सोसाइटी के रेसिडेंट्स के साथ-साथ अगल बगल के गांवों के निवासी भी मेट्रो बंद होने से प्रभावित हैं।

नेफोवा की महासचिव श्वेता भारती ने बताया कि मेट्रो बंद किये जाने का निर्णय बिना सोचे समझे लिया गया है। इससे सिर्फ लोगों की परेशानी बढ़ी है। 9 मिनट फ़ास्ट मेट्रो चलाने की दलील बेकार है। मेट्रो नहीं रुकने से गर्मियों में और भी परेशानी बढ़ जाएगी। वहीं, 7x वेलफेयर टीम के ब्रजेश शर्मा ने कहा कि लोगों को मेट्रो पकड़ने के लिए एक मेट्रो से दूसरे मेट्रो स्टेशन भटकना पड़ रहा है। पिछले साल ही सेक्टर-50 को नार्थ इंडिया का पहला ट्रांसजेंडर स्टेशन घोषित किया गया। अब 6 महीने के अंदर इसे बन्द किये जाने से लोगों मे खासी नाराजगी है। सेक्टर-101 के आसपास अन्तरिक्ष गोल्फ व्यू, विंडसर कोर्ट इत्यादि दर्जनों सोसाइटी हैं, जहां रहने वाले लोग मेट्रो से सफर करते हैं। 

आज हुए प्रदर्शन में नेफोवा टीम से विकास कटियार, ज्योति प्रताप, जितेंद्र कुमार, 7x वेलफेयर टीम से लीलेश शर्मा, श्रेया, ओपी सागर, राकेश झा, युवा टीम सर्फाबाद गांव से सोनू यादव, रविकांत शर्मा, नोफा के प्रेसिडेंट राजीव सिंह, बृजेश, रीता सोलंकी और विभिन्न सोसाइटी के कई लोग शामिल हुए।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.