9 हजार से ज्यादा छेदों में लगेगा बारूद, 14 दिनों में होगा 99% काम, एडिफिस एजेंसी के उत्कर्ष मेहता से खास बातचीत

Tricity Today Video Interview : 9 हजार से ज्यादा छेदों में लगेगा बारूद, 14 दिनों में होगा 99% काम, एडिफिस एजेंसी के उत्कर्ष मेहता से खास बातचीत

9 हजार से ज्यादा छेदों में लगेगा बारूद, 14 दिनों में होगा 99% काम, एडिफिस एजेंसी के उत्कर्ष मेहता से खास बातचीत

Tricity Today | special conversation with Utkarsh Mehta of Edifice Agency

9 हजार से ज्यादा छेदों में लगेगा बारूद, 14 दिनों में होगा 99% काम, एडिफिस एजेंसी के उत्कर्ष मेहता से खास बातचीत Noida News : सुपरटेक ट्विन्स टावर में आज शनिवार से बारूद लगाने का कार्य शुरू हो गया है। लगातार 14 दिनों तक ट्विन्स टावर में विस्फोटक पदार्थ लगाया जाएगा। पूरे टावर में कितना विस्फोटक पदार्थ लगेगा और इसको लगाने के लिए कितने लोगों की टीम बनाई गई है? इसकी पूरी जानकारी एडिफिस एजेंसी के पार्टनर उत्कर्ष मेहता ने आपके पसंदीदा न्यूज वेबपोर्टल "ट्राईसिटी टुडे" को दी है। पूरे टावर में हुए 9,640 छेद
"ट्राईसिटी टुडे" से खास बातचीत में उत्कर्ष मेहता ने कहा, "ट्विन्स टावर को ध्वस्त करने के लिए कुल 9,640 छेद दोनों टावर में किए गए हैं। इन सभी छेदों में बारूद लगाने का कार्य शुरू हो गया है। इस पूरे ध्वस्तीकरण के लिए 3,700 किलो विस्फोटक पदार्थ पलवल से लाया जाएगा।"

पूरी बिल्डिंग में 3,700 किलो बारूद लगेगा
उत्कर्ष मेहता ने आगे बताया, "कुल 9,640 छेद ट्विन्स टावर में किए गए हैं, लेकिन हम अभी यह नहीं बता सकते कि कितना किलो बारूद एक छेद में लगेगा। हमारी टीम लगातार कार्य कर रही है। कुल मिलाकर 3,700 किलो बारूद 9,640 छेदों में लगाया जाएगा।

कुल 46 लोगों की टीम लगा रही बारूद
उन्होंने आगे बताया, "इस पूरे प्रोजेक्ट में 10 इंडियन ब्लास्टर, 6 विदेशी ब्लास्टर और 30 मजदूर कार्य कर रहे हैं। अभी यह नहीं बताया जा सकता कि एक दिन में कितने  छेदों में कितना बारूद लगेगा, लेकिन 3 दिनों बाद इसकी जानकारी दे सकते हैं।

रोजाना पलवल ने आएगा विस्फोटक पदार्थ
उत्कर्ष मेहता ने आगे बताया, "रोजाना सुबह के समय पलवल से विस्फोटक पदार्थ लाया जाएगा और पूरे दिन उस पर कार्य होगा। शाम को जो विस्फोटक पदार्थ बच जाएगा, उसको वापस पलवल भेज दिया जाएगा और अगली सुबह नई मात्रा में बारूद आएगा। यह प्रक्रिया लगातार 14 दिन तक चलेगी। रोजाना कितने किलो विस्फोटक पदार्थ आएगा, इसकी जानकारी शाम के समय ही विस्फोटक पदार्थ भेजने वाली कंपनी को दे दी जाएगी। एक कोलम में इतना बारूद भरा जाएगा कि बारूद पूरे कॉलम को फाड़ दे।"

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.