गौतमबुद्ध नगर के निवासियों को वायु प्रदूषण से मिली राहत, मगर बढ़ी ये समस्या 

बड़ी खबर : गौतमबुद्ध नगर के निवासियों को वायु प्रदूषण से मिली राहत, मगर बढ़ी ये समस्या 

गौतमबुद्ध नगर के निवासियों को वायु प्रदूषण से मिली राहत, मगर बढ़ी ये समस्या 

Google Image | वायु गुणवत्ता सूचकांक

गौतमबुद्ध नगर के निवासियों को वायु प्रदूषण से मिली राहत, मगर बढ़ी ये समस्या  Gautam Buddh Nagar :  लगातार हो रही बारिश की वजह से जिले के निवासियों को सितंबर महीने में ज्यादा स्वच्छ हवा मिली है। वायु गुणवत्ता के लिहाज से सितंबर का महीना अब तक बेहत अच्छा रहा है। गौतमबुद्ध नगर में वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 100 से कम और अच्छा से संतोषजनक श्रेणी में बना हुआ है। नोएडा में 6 सितंबर को सिर्फ एक दिन एक्यूआई खराब श्रेणी में रहा। जबकि ग्रेटर नोएडा में 6-7 सितंबर को दो दिन वायु की गुणवत्ता खराब रही। इस महीने ग्रेटर नोएडा में चार और नोएडा में एक दिन वायु गुणवत्ता 'अच्छा' श्रेणी में रही है। 

सामान्य दिनों में नोएडा-ग्रेटर नोएडा में प्रमुख प्रदूषक पीएम 10 था। आमतौर पर यह वाहनों के उत्सर्जन और कंस्ट्रक्शन साइट से उड़ने वाली धूल के कारण होता है। यूपीपीसीबी नोएडा के क्षेत्रीय अधिकारी प्रवीण कुमार ने कहा, ‘पूरे साल में मानसून के दौरान कुछ ही महीने होते हैं, जब हवा की गुणवत्ता इतनी अच्छी रहती है। यह दिलचस्प है कि प्रदूषण के स्थानीय स्रोत को जोड़ने वाली सभी गतिविधियां हमेशा की तरह चलती रहती हैं। बावजूद उसके प्रदूषण का स्तर कम है। हम इस दिशा में काम कर रहे हैं कि अन्य महीनों के दौरान भी प्रदूषण के स्तर को कैसे नियंत्रित रखा जा सकता है।

हालांकि गुरुवार को जिले में हल्की से मध्यम बारिश हुई। शुक्रवार को भी बारिश की भविष्यवाणी की गई है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, गुरुवार को पूरे उत्तर प्रदेश में तेज बारिश की भविष्यवाणी की गई थी। हालांकि शुक्रवार से कम होना शुरू हो जाएगी। गुरुवार को गौतमबुद्ध नगर में बारिश हुई। आईएमडी के अनुसार, 18 सितंबर से फिर से भारी बारिश की संभावना है। हालांकि लगातार बारिश की वजह से पूरे जिले में लोगों को जलभराव की समस्या से दो-चार होना पड़ा है।

गौतमबुद्ध नगर में गुरुवार को अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहा। यह सामान्य से करीब 6 डिग्री कम और न्यूनतम 25 डिग्री के आसपास रहा। जिले में शाम तक 2 मिमी बारिश और सापेक्ष आर्द्रता 87% दर्ज की गई। अगले सप्ताह आसमान में बादल छाए रहने और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। हालांकि ग्रेटर नोएडा में डेल्टा 2 के कुछ हिस्सों को छोड़कर किसी भी इलाके में यातायात या जलभराव की शिकायत दर्ज नहीं की गई थी। सिर्फ एक दिन को छोड़कर इस पूरे महीने एक्यूआई 100 से नीचे बना हुआ है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.