नोएडा में बिना मान्यता 12 वर्षों से चल रहा खेतान स्कूल, कमिश्नर ने कार्रवाई का आदेश दिया

BIG BREAKING : नोएडा में बिना मान्यता 12 वर्षों से चल रहा खेतान स्कूल, कमिश्नर ने कार्रवाई का आदेश दिया

नोएडा में बिना मान्यता 12 वर्षों से चल रहा खेतान स्कूल, कमिश्नर ने कार्रवाई का आदेश दिया

Google Image | द खेतान पब्लिक, नोएडा

नोएडा में बिना मान्यता 12 वर्षों से चल रहा खेतान स्कूल, कमिश्नर ने कार्रवाई का आदेश दिया Noida News : नोएडा के सेक्टर-40 में द खेतान पब्लिक स्कूल करीब 12 वर्षों से बिना मान्यता लिए चल रहा है। एक शिकायत के आधार पर मेरठ के मंडलायुक्त सुरेंद्र सिंह ने जांच का आदेश दिया। जिसमें यह चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। अब शिकायतकर्ता ने स्कूल मैनेजमेंट के खिलाफ धोखाधड़ी, जालसाजी, अमानत में खयानत, अवैध वसूली और हजारों बच्चों का भविष्य खराब करने के आरोप में आपराधिक मुकदमा दर्ज करने की मांग की है।

डिप्टी सीएम से स्कूल के खिलाफ शिकायत हुई
नोएडा के द खेतान पब्लिक स्कूल के खिलाफ शिकायतकर्ता ने उपमुख्यमंत्री डॉ.दिनेश शर्मा से शिकायत की थी। जब डॉ.दिनेश शर्मा नोएडा आए तो उन्होंने मेरठ के मंडलायुक्त सुरेंद्र सिंह को पूरे प्रकरण पर संज्ञान लेने का आदेश दिया। इसके बाद मंडलायुक्त ने द खेतान पब्लिक स्कूल की मान्यता से जुड़े दस्तावेजों और पत्रावली की जांच करवाई। मंडलायुक्त ने बेसिक शिक्षा विभाग के संयुक्त निदेशक को जांच करने के लिए कहा था।

जेडी ने एडी बेसिक को कार्रवाई करने को कहा
मेरठ के मंडलायुक्त सुरेंद्र सिंह ने इस मामले में संयुक्त निदेशक को पत्र लिखकर जांच-पड़ताल करने का आदेश दिया था। जिस पर संयुक्त निदेशक ने सहायक मंडलीय निदेशक को पत्र लिखा और बताया कि द खेतान पब्लिक स्कूल ने अनिवार्य शिक्षा अधिकार अधिनियम-2009 की धारा-18 के तहत मान्यता नहीं ली है। संयुक्त निदेशक ओंकार सिंह ने मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक राजेश कुमार श्रीवास को बताया कि इस मान्यता के बिना उत्तर प्रदेश में पब्लिक स्कूल की स्थापना नहीं की जा सकती है।

एडी बेसिक ने बीएसए से कार्रवाई करने को कहा
मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक राजेश कुमार श्रीवास ने गौतमबुद्ध नगर के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी धर्मेंद्र सक्सैना को यह पूरी जानकारी पत्र लिख कर दी। साथ ही जरूरी कार्रवाई करने का आदेश भी दिया। जेडी और एडी के आदेश मिलने के बाद जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने द खेतान पब्लिक स्कूल को नोटिस जारी किया और नोटिस का जवाब स्कूल की ओर से दिया गया है।

बीएसए पहले बोले- जानकारी नहीं, आदेश भेजा तो बोले- कार्रवाई हो रही
इस पूरे मामले के बारे में ट्राईसिटी टुडे ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी धर्मेंद्र सक्सेना को फोन किया। जब उनसे पूछा गया कि नोएडा के द खेतान पब्लिक स्कूल की मान्यता से संबंधित क्या कार्रवाई चल रही है तो उन्होंने सीधेतौर पर कोई भी जानकारी होने से इंकार कर दिया। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अनभिज्ञ बनते हुए ऐसे किसी भी मामले से पल्ला झाड़ने लगे। जब ट्राईसिटी टुडे ने उन्हें संयुक्त निदेशक और सहायक निदेशक की ओर से जारी किए गए पत्र भेजे तो इसके बाद बीएसए ने स्वीकार किया कि मामले में जांच-पड़ताल चल रही है। बीएसए ने बताया कि स्कूल को नोटिस जारी किया गया था। नोटिस का जवाब मिल गया है। मामले को लेकर सोमवार को सुनवाई होगी। दूसरी ओर इस पूरे मामले पर द खेतान पब्लिक स्कूल से संपर्क करने का प्रयास किया गया लेकिन मैनेजमेंट से संपर्क नहीं हो पाया है।

मैनेजमेंट पर कानूनी कार्रवाई करने की मांग
दूसरी ओर शिकायतकर्ता ने कहा है कि द खेतान पब्लिक स्कूल को वर्ष 2009 में शिक्षा का अधिकार अधिनियम-2009 के तहत मान्यता लेनी चाहिए थी। करीब 12 वर्षों से स्कूल बिना मान्यता संचालित किया जा रहा है। स्कूल मैनेजमेंट मनमानी फीस वसूल रहा है। सरकार और कानून का कोई नियंत्रण नहीं है। स्कूल मैनेजमेंट ने धोखाधड़ी, जालसाजी और अमानत में खयानत जैसे आपराधिक कृत्य किए हैं। शिकायतकर्ता ने इस पूरे मामले में मैनेजमेंट के खिलाफ एफआईआर दर्ज करके कानूनी कार्रवाई की मांग की है।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.