नोएडा के लिए बड़ी खबर : इस गर्मी में नहीं होगी पानी की किल्लत लेकिन पानी का बिल जमा नहीं करने वालों के कनेक्शन कटेंगे

इस गर्मी में नहीं होगी पानी की किल्लत लेकिन पानी का बिल जमा नहीं करने वालों के कनेक्शन कटेंगे

Tricity Today | Neha Sharma IAS

Noida Authority News : गर्मी ने जैसे ही दस्तक दी है, नोएडा विकास प्राधिकरण (Noida Authority) ने शहर में पेयजल आपूर्ति बेहतर करने के लिए कदम उठाना शुरू कर दिया है। नोएडा की मुख्य कार्यपालक अधिकारी ऋतु महेश्वरी (Ritu Maheshwari IAS) ने पेयजल आपूर्ति सुधारने और डिफाल्टर कंजूमर पर लगाम कसने की जिम्मेदारी अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी नेहा शर्मा (Neha Sharma IAS) को दी है। नेहा शर्मा ने इन मुद्दों को लेकर जल विभाग और तमाम जिम्मेदार अफसरों के साथ एक बैठक की है। जिसमें ताबड़तोड़ फैसले लेने का आदेश दिया गया है। एसीईओ ने अधिकारियों से कहा है कि जो लोग अपना काम समय पर पूरा नहीं करेंगे, उन पर कार्यवाही की जाएगी।

शहर में वाटर मीटर लगाने का काम तेज किया जाएगा
नेहा शर्मा ने प्राधिकरण के जल विभाग की सभी डिवीजन को आदेश दिया है। उन्होंने कहा कि वाटर मीटर लगाने के काम को तेज किया जाए। इसके लिए तीसरी बार टेंडर निकाला जाएगा। शहर के कुल वाटर कंजूमर में से 33 फ़ीसदी के यहां पहले चरण में मीटर लगाए जाने हैं। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल की गाइडलाइन के मुताबिक वेटलैंड का निर्माण शहर के खादर क्षेत्र में किया जाना है। यह वेटलैंड यमुना नदी के किनारे सिंचाई विभाग विकसित करेगा।

30 जून तक पूरे शहर में 40 नए नलकूप बनाए जाएंगे
शहर में जलापूर्ति सुधारने के लिए 40 नए नलकूप लगाए जाएंगे। इसके लिए टेंडर निकालने का आदेश अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने दिया है। जो ट्यूबवेल अभी खराब पड़े हुए हैं, उन्हें 15 मार्च तक दुरुस्त करने के लिए कहा गया है। नए नलकूप 30 जून तक क्रियाशील करने का आदेश दिया गया है। एसीईओ ने कहा है कि शहर की जनसंख्या बढ़ रही है। हर साल और ज्यादा पानी की जरूरत है। जिसकी पूर्ति करने के लिए ट्यूबवेल लगाए जा रहे हैं। गर्मियों के दिनों में पानी की खपत बढ़ जाएगी। लिहाजा, ज्यादा पानी निकालने के लिए नए नलकूप जल्दी से जल्दी काम करना शुरू कर दें।

जो पानी का बिल जमा नहीं कर रहे उनके कनेक्शन काट दें
अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी नेहा शर्मा ने सभी वाटर डिवीजन को आदेश दिया है कि जल राजस्व की एमनेस्टी अवधि में वसूली चल रही है। इसके बाद उन कंजूमर के कनेक्शन काट दिए जाएं, जो बकाया पानी का बिल जमा नहीं कर रहे हैं। जिन कंजूमर पर 25 लाख रुपये से ज्यादा बकाया है, उनके खिलाफ आरसी जारी की जाए। सभी जल खंडों को कनेक्शन काटने का काम प्रभावी रूप से करने का आदेश दिया गया है। साफ है कि पानी का बिल नहीं चुका रहे लोगों को गर्मी के दिनों में बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। लिहाजा, वक्त रहते पानी का बिल जमा कर दें।

शहर में हर दिन की है 400 एमएलडी की खपत
शहर में हर दिन करीब 400 एमएलडी पानी की खपत होती है। इसमें 250 एमएलडी गंगाजल गाजियाबाद से आता है। हर वर्ष अक्टूबर में गंगनहर की सफाई के चलते करीब 1 महीने गंगाजल की सप्लाई बंद रहती है। इस बार भी नहर की सफाई के लिए यह ब्रेकडाउन हो चुका है। अब लाइन शिफ्टिंग के लिए यह दूसरा ब्रेकडाउन लिया गया है। अथॉरिटी अधिकारियों का कहना है कि शहर में इस समय 350 ट्यूबवेल और 11 रेनीवेल उपयोग में हैं। इनको पूरी क्षमता के साथ चलवाया जाएगा।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.