याकूब मेमन को फांसी नहीं होती तो अखिलेश यादव उसको उम्मीदवार बना देते

संबित पात्रा ने कहा- याकूब मेमन को फांसी नहीं होती तो अखिलेश यादव उसको उम्मीदवार बना देते

याकूब मेमन को फांसी नहीं होती तो अखिलेश यादव उसको उम्मीदवार बना देते

Tricity Today | संबित पात्रा ने लखनऊ भाजपा कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस की

याकूब मेमन को फांसी नहीं होती तो अखिलेश यादव उसको उम्मीदवार बना देते लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने सोमवार को लखनऊ स्थित भाजपा कार्यालय में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा आज उत्तर प्रदेश 73वां स्थापना दिवस है जो सभी के लिए गर्व का विषय है। इसके साथ ही उन्होंने अखिलेश यादव पर जमकर हमला बोला है। संबित पात्रा ने कहा कि जहां एक ओर पूरा देश आज उत्तर प्रदेश का स्थापना दिवस मना रहा है, वहीं अखिलेश यादव ने एक साक्षात्कार में कहा कि पाकिस्तान भारत का दुश्मन नहीं है। यह बहुत ही शर्मनाक बात है। साथ ही यह भी कहा कि अगर याकूब मेमन को फांसी नहीं होती तो अखिलेश यादव उसको भी  उम्मीदवार बना देते।

कांग्रेसी बोल रहें पाकिस्तानी भाषा
उन्होंने कहा कि कल क्लब हाउस में दिग्विजय सिंह भारत के खिलाफ जहर उगल रहे थे और पाकिस्तान की हां में हां मिला रहे थे। दिग्विजय सिंह का देश खिलाफ कुछ कहना आम बात नहीं है। संबित ने आगे कहा कि कांग्रेस हमेशा से ही भारत को अस्थिर करने की कोशिश करती है। कांग्रेसी पाकिस्तानियों की भाषा बोल रहे हैं। ऐसा लग रहा है जैसी कांग्रेस पाकिस्तान औऱ चीन से मिली हुई है। 

10 मार्च को ये ईवीएम पर बरसेंगे
संबित पात्रा ने कहा कि अखिलेश को पाकिस्तान भारत का दुश्मन ही नहीं लगता है। लगना भी नहीं चाहिए क्योंकि जिसे जिन्ना से प्रेम हो वह पाकिस्तान से प्रेम को कैसे इनकार कर सकता है। याकूब मेमन अगर जिंदा होता तो अखिलेश उसे भी टिकट दे देते। इतना ही नहीं कसाब को स्टार प्रचारक के रूप में उतार देते। 2017 के बाद से यूपी का विकास हुआ है। यूपी की आर्थिक स्थिति में बदलाव हुआ है और बहुत सी योजनाएं प्रभावी रूप से लागू हुई हैं। ये लोग चाहते हैं कि मीडिया वाले ओपिनियन पोल ना दिखाएं, मुझे पता है 10 मार्च को ये ईवीएम पर भी बरसेंगे कि ईवीएम खराब था इसलिए हार गए।

यूपी आज सुरक्षित और समृद्ध प्रदेश है- संबिद पात्रा
अपने संबोधन में संबित पात्रा ने कहा कि आज उत्तर प्रदेश 73वां स्थापना दिवस है जो सभी के लिए गर्व का विषय है। 2017 से पहले यूपी में जिस तरह के लोग सत्ता में रहे उससे यूपी की छवि धूमिल हो गई थी लेकिन 2017 के बाद योगी जो के नेतृत्व में यूपी आज सुरक्षित और समृद्ध प्रदेश है। इज ऑफ डूइंग बिजनेस में हम 12वें स्थान से दूसरे और आर्थिक व्यवस्था में छठे से दूसरे स्थान पर आए हैं। यह दिखाता है यूपी विकास का पायदान छू चुका है।

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.