मुख्यमंत्री आदित्यनाथ का आदेश- ‘हेल्पलाइन को बेहतर बनाएं, रोजाना 100 बुजुर्गों का जानें हाल’

BIG NEWS: मुख्यमंत्री आदित्यनाथ का आदेश- ‘हेल्पलाइन को बेहतर बनाएं, रोजाना 100 बुजुर्गों का जानें हाल’

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ का आदेश- ‘हेल्पलाइन को बेहतर बनाएं, रोजाना 100 बुजुर्गों का जानें हाल’

Tricity Today | समीक्षा बैठक करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ का आदेश- ‘हेल्पलाइन को बेहतर बनाएं, रोजाना 100 बुजुर्गों का जानें हाल’
  • हेल्पलाइन नम्बर 14567 सेवा को और बेहतर बनाने का आदेश दिया
  • कैंसर की समस्या से ग्रस्त अथवा डायलिसिस कराने वाले मरीजों के इलाज में किसी वजह से देरी न हो
  • सीएम हेल्पलाइन 1076 के जरिए भी बुजुर्गों के स्वास्थ्य की जानकारी रखी जाएगी
  • लापरवाही हुई तो संबंधित अधिकारी-कर्मचारी के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाएगी
Uttar Pradesh News: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने वरिष्ठ नागरिकों को त्वरित सहायता के लिए संचालित हेल्पलाइन नम्बर 14567 सेवा को और बेहतर बनाने का आदेश दिया है। उन्होंने कहा है कि सीएम हेल्पलाइन 1076 (CM Helpline 1076) के माध्यम से भी रोजाना कम से कम 100 बुजुर्गों को कॉल कर उनके स्वास्थ्य के संबंध में जानकारी ली जाए। उनकी अन्य जरूरतों के बारे में पूछते हुए समस्याओं का त्वरित समाधान कराया जाए। 

सीएम ने कहा कि कैंसर की समस्या से ग्रस्त अथवा डायलिसिस कराने वाले मरीजों के इलाज में किसी वजह से देरी नहीं होनी चाहिए। साथ ही उन्होंने ज्वॉइंट डायरेक्टर स्तर के अधिकारियों को जिलों में जाकर इस प्रोजेक्ट को धरातल पर उतारने का आदेश दिया है। बताते चलें कि हाल ही में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के वृद्ध नागरिकों की सहायता और उन्हें स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने के लिए हेल्पलाइन नंबर 14567 सेवा शुरू की थी।


रोजाना 100 निवासियों का हाल जानें
उन्होंने कहा था कि प्रदेश के सभी बुजुर्गों को फौरन हर तरह की मदद मिलनी चाहिए। इसके लिए अफसर हमेशा तैयार रहें। साथ ही इस हेल्पलाइन को ज्यादा कारगर बनाने के बारे में अहम आदेश दिए थे। उन्होंने कहा है कि सीएम हेल्पलाइन 1076 के जरिए भी बुजुर्गों के स्वास्थ्य की जानकारी रखी जाएगी। उन्होंने इस हेल्पलाइन के जरिए रोजाना 100 वृद्धजनों को कॉल कर उनकी सेहत के बारे में पता करने का आदेश दिया है। 

अफसर-कर्मचारी पर होगी कार्रवाई
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि प्रदेश के सभी गो-आश्रय स्थलों की गहन पड़ताल होगी। संयुक्त निदेशक स्तर के अधिकारियों को जिलों में भेज कर गो-आश्रय स्थलों का निरीक्षण कराया जाएगा। उन्होंने एक सप्ताह में जिलावार स्थिति की रिपोर्ट प्रस्तुत करने का आदेश दिया है। उन्होंने हरा चारा-भूसा आदि के समुचित प्रबंध करने को कहा है। सीएम योगी ने कहा है कि कहीं भी अगर दुर्व्यवस्थाओं के कारण गोवंश की मृत्यु हुई, तो संबंधित अधिकारी-कर्मचारी के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाएगी।

तैयार रहें टीमें
यूपी के कई जिले भारी बारिश से बेहाल हैं। बरसात को देखते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने नदियों के जलस्तर की लगातार मॉनीटरिंग करने का आदेश दिया है। उन्होंने एनडीआरएफ, एसडीआरएफ तथा आपदा प्रबंधन टीमों को हर वक्त एक्टिव मोड में रखने को कहा है। सीएम ने कहा है कि बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्यों में देरी नहीं होनी चाहिए। उन्होंने बाढ़ से प्रभावित परिवारों को हर जरूरी मदद तत्काल उपलब्ध कराने को कहा है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.