BIG BREAKING: यूपी में 6 मई तक लागू रहेगा ‘कोरोना कर्फ्यू,’ बदले कई नियम, पढ़ें पूरी खबर

यूपी में 6 मई तक लागू रहेगा ‘कोरोना कर्फ्यू,’ बदले कई नियम, पढ़ें पूरी खबर

Google Image | यूपी में 6 मई तक लागू रहेगा

उत्तर प्रदेश में मंगलवार, 4 मई की सुबह 7:00 बजे तक लागू कोरोना कर्फ्यू को 2 दिन और बढ़ा दिया गया है। अब कर्फ्यू और इसके प्रतिबंध 6 मई, गुरुवार की सुबह 7:00 बजे तक प्रभावी रहेंगे। महामारी को रोकने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज सुबह टीम-9 के साथ महत्वपूर्ण बैठक की। इसमें यह अहम फैसला लिया गया। मीटिंग में तय किया गया कि कोरोना को रोकने के लिए जरूरी इसकी चेन को तोड़ा जाए। इसके लिए लोगों को एक दूसरे के संपर्क में आने से बचाना होगा। इसलिए मुख्यमंत्री योगी आदित्नाथ ने मंगलवार की सुबह 7:00 बजे समाप्त होने वाले कोरोना कर्फ्यू को गुरुवार की सुबह 7:00 बजे तक बढ़ा दिया है। मतलब अब प्रतिबंध मंगलवार और बुधवार को भी लागू रहेंगे। पहले की तरह इमरजेंसी, स्वास्थ्य और इसेंशियल सर्विसेज से जुड़े लोगों को कर्फ्यू से छूट मिलेगी।
  1. सोमवार की सुबह कोविड की रोकथाम के गठित टीम-9 के सदस्यों संग मुख्यमंत्री ने महत्वपूर्ण बैठक की। राज्य में आवागमन न्यूनतम हो, इसके लिए अंतरराज्यीय बस सेवा को तत्काल स्थगित करने का फैसला लिया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के एक दिन पहले ही इसका आदेश दिया था। उन्होंने कहा था कि कोरोना वायरस को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश राज्य परिवहन निगम की बसें सिर्फ यूपी के दायरे में ही अपनी सेवाएं देंगी। बसों को दूसरे राज्यों में नहीं भेजा जाएगा। न ही दूसरे राज्यों से बस यूपी की सीमा में प्रवेश करेंगी। उनका मानना है कि कोरोना वायरस की चेन तोड़ने में यह बेहद कारगर साबित होगा।
  2. वायु सेवा से आवागमन करने वाले सभी यात्रियों के लिए कोविड नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य कर दिया गया है। हवाई यात्रा करने वाले सभी लोगों के लिए कोविड नेगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य है। इस रिपोर्ट के बिना कोई भी व्यक्ति उत्तर प्रदेश में प्रवेश नहीं कर सकता है। एयरपोर्ट पर जांच करने के बाद उसे बाहर निकलने की अनुमति दी जाएगी।
  3. गांवों में आने वाले हर एक प्रवासी नागरिक की टेस्टिंग की जाएगी। दूसरे राज्यों से यूपी के गांव में आने वाले लोगों की पूरी जांच की जा रही है। उनकी कांटेक्ट ट्रेसिंग भी हो रही है। ताकि किसी तरह के संभावित खतरे को टाला जा सके। अगर कोई कोरोना से संक्रमित मिलता है, तो फौरन उसे आइसोलेट कर उसका इलाज शुरू किया जा सके। साथ ही उन्हें नियमानुसार क्वारन्टीन किया जा रहा है। गांवों में आने वाले सभी लोगों को 7 दिन क्वारंटीन में रहना होगा।
  4. ट्रेनों से आने वालों की तापमान जांच की जाएगी। संदिग्ध पाए जाने पर कोरोना टेस्ट कराया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि ट्रेन से यूपी में आने वाले सभी लोगों का रेलवे स्टेशनों पर ही टेस्ट किया जाए। उन सभी को कोविड किट दी जाए और नियमानुसार क्वारंटीन में रुकने के जागरुक किया जाए। इसमें लापरवाही न हो।
 

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.