पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख मायावती ने सुरक्षा-व्यवस्था पर उठाए सवाल, जानें क्या बोले विपक्षी नेता

शाहजहांपुर वकील हत्याकांड : पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख मायावती ने सुरक्षा-व्यवस्था पर उठाए सवाल, जानें क्या बोले विपक्षी नेता

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख मायावती ने सुरक्षा-व्यवस्था पर उठाए सवाल, जानें क्या बोले विपक्षी नेता

Google Image | पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख मायावती ने सुरक्षा-व्यवस्था पर उठाए सवाल

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख मायावती ने सुरक्षा-व्यवस्था पर उठाए सवाल, जानें क्या बोले विपक्षी नेता Uttar Pradesh : राज्य के शाहजहांपुर में अधिवक्ता की न्यायालय परिसर में गोली मारकर हत्या किए जाने के मामले में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) और मायावती (Mayawati) ने राज्य सरकार को कटघरे में खड़ा किया है। दोनों नेताओं ने सोशल मीडिया पर बयान जारी कर इस घटना की निंदा की है। साथ ही राज्य सरकार से सवाल पूछे हैं। समाजवादी पार्टी बढ़ती महंगाई को लेकर भी आज सुबह से पूरे प्रदेश में प्रदर्शन कर रही है। 

लखनऊ में पार्टी के कार्यकर्ताओं ने विधानसभा और उसके सामने गैस सिलेंडर लेकर प्रदर्शन किया। सोशल मीडिया पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लिखा है, शाहजहाँपुर में कोर्ट में ही एक वकील की सरेआम हत्या ने ‘एनकाउंटर सरकार’ के झूठे प्रचार का सच जनता के सामने लाकर रख दिया है। भाजपा सरकार में उप्र ‘ईज़ ऑफ़ डूइंग क्राइम’ में ‘नंबर वन’ हो गया है। 

जनता देगी जवाब
उन्होंने महंगाई पर भी सरकार को घेरते हुए लिखा है, हज़ार का सिलेंडर आज जनता को महँगा पड़ रहा है… बाइस के चुनाव में भाजपा को महँगा पड़ेगा। अमीरों के हवाई जहाज का तेल सस्ता और ग़रीब जनता की गाड़ी-वाहनों का डीज़ल-पेट्रोल महँगा हो गया है। भाजपा ग़रीबों की जेब काट रही है और अमीरों की तिजोरियाँ भर रही है। आज पेट्रोल पंप भाजपा के लिए ‘पैसों के पंप’ बन गए हैं। भाजपा पैसों वालों की पार्टी थी, है और रहेगी।

आखिर सुरक्षित कौन?
शाहजहांपुर में अधिवक्ता की हत्या मामले में बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने भी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है, यूपी के जिला शाहजहाँपुर के कोर्ट परिसर में वकील की आज दिन दहाड़े हुई हत्या अति-दुखद व शर्मनाक है। यह यहाँ की भाजपा सरकार में कानून-व्यवस्था की स्थिति व इस सम्बंध में सरकारी दावों की पोल खोलती है। अब अन्ततः यही सवाल उठता है कि यूपी में आखिर सुरक्षित कौन? सरकार इस ओर समुचित ध्यान दे।

सीबीआई जांच की मांग की
बसपा प्रमुख ने सिंधु बॉर्डर पर एक दलित की हत्या को लेकर भी सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा है, इसमें कोई भी सन्देह नहीं है कि बीएसपी ने हमेशा सिखों के सभी सन्तों, गुरुओं व महापुरुषों आदि को पूरा-पूरा आदर-सम्मान दिया है और यह आदर-सम्मान आगे भी हमेशा बना रहेगा। लेकिन सिन्घु बॉर्डर पर एक दलित की हुई हत्या को लेकर इस मामले में अब जो कुछ गम्भीर बातें सामने आ रही हैं उसे ख़ास ध्यान में रखकर अब इस प्रकरण की सीबीआई (CBI) से जाँच होनी चाहिये। बीएसपी की केन्द्र सरकार से यह मांग है।

प्रियंका गांधी ने किया कटाक्ष
बढ़ती महंगाई को लेकर कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है, वादा किया था कि हवाई चप्पल वाले हवाई जहाज से सफर करेंगे। लेकिन भाजपा सरकार ने पेट्रोल-डीजल के दाम इतने बढ़ा दिए कि अब हवाई चप्पल वालों और मध्यम वर्ग का सड़क पर सफर करना भी मुश्किल हो गया है।

यह है पूरा घटनाक्रम
सोमवार, 18 अक्टूबर को शाहजहांपुर कचहरी में एक सनसनीखेज वारदात हुई है। यहां तीसरी मंजिल स्थित एसीजेएम ऑफिस में अधिवक्ता भूपेंद्र सिंह की तमंचे से गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस घटना से पूरे कचहरी में अफरा-तफरी का माहौल हो गया। आनन-फानन में मौके पहुंची पुलिस छानबीन में जुट गई। पुलिस ने मौके से 315 बोर का तमंचा बरामद किया है। बता दें वारदात के समय दफ्तर में कोई भी मौजूद नहीं था।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.