Shabnam Case : मुस्लिम महिला की फांसी पर इस संत ने दिया बड़ा बयान, ऐसी सजा दी तो होगा बड़ा अपशगुन, जानिए पूरा मामला

मुस्लिम महिला की फांसी पर इस संत ने दिया बड़ा बयान, ऐसी सजा दी तो होगा बड़ा अपशगुन, जानिए पूरा मामला

Google Image | Shabnam

भारत में पहली बार किसी महिला को फांसी देने की तैयारी की जा रही है। उत्तर प्रदेश के मथुरा में भारत का एकलौता महिला फांसी घर है। जहां पर 38 साल की शबनम को फांसी देने की तैयारी की जा रही है। इस महिला ने 22 साल पहले अपने परिवार के 7 लोगों की हत्या की थी। इस मामले में अब अयोध्या के संत परमहंस दास ने बड़ा बयान दिया है।

संत परमहंस दास ने अपील की है कि महिला होने के नाते शबनम की फांसी माफ की जानी चाहिए। परमहंस दास का कहना है कि देश में ऐसा पहली बार ऐसे हो रहा है कि किसी महिला को फांसी होने की तैयारी की जा रही है। अगर शबनम को फांसी होती है तो पृथ्वी पर बड़ा अपशगुन होगा। उनके अनुसार, भारत महात्माओं का देश है। भारत में हमेशा सनातन धर्म की मानी गई है और हिन्दू धर्म में किसी भी महिला की जान लेना गलत माना गया है।  

क्या था मामला 
पढ़ी लिखी पोस्ट ग्रेजुएट शबनम को एक पांचवी क्लास फेल सलीम से प्यार हो गया था। शबनम अपने प्रेमी सलीम को अपना जीवनसाथी बनाना चाहती थी। लेकिन सलीम के अनपढ़ होने के कारण शबनम के पिता शौकत अली ने इस रिश्ते से साफ मना कर दिया। शबनम अपने प्यार में पूरी  तरह चूर हुई पड़ी थी। शबनम ने अपने प्रेमी सलीम के साथ मिलकर एक ऐसी योजना बनाई। जिसको सुनकर आज भी लोगों की रूह कांप उठती है। 

शबनम ने अपने प्यार को पाने के लिए अपने पूरे परिवार की हत्या करने की योजना बनाई थी। वह 15 अप्रैल 2008 की काली रात जिसका कोई नहीं भूल सकता, बेटी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने मां, बाप और 10 महीने के बच्चे समेत पूरे परिवार की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी थी। जिसका कारण सिर्फ यह था कि उसको पढ़े लिखे होने के बावजूद भी एक अनपढ़ लड़के से शादी करनी थी।

मथुरा की महिला जेल में होगी फांसी
राष्ट्रपति के अपील ठुकराने के बाद शबनम को फांसी देने की तैयारी शुरू कर दी गयी है। रामपुर जिला कारगर में बंद शबनम को मथुरा में स्थित महिला फांसी गृह में फांसी दी जायेगी। आजाद हिंदुस्तान में पहली बार होगा जब किसी महिला को फांसी दी जाएगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.