प्रियंका गांधी लड़ेंगी यूपी का विधानसभा चुनाव, ये दो सीट हैं पहली पसंद

बड़ी खबर : प्रियंका गांधी लड़ेंगी यूपी का विधानसभा चुनाव, ये दो सीट हैं पहली पसंद

प्रियंका गांधी लड़ेंगी यूपी का विधानसभा चुनाव, ये दो सीट हैं पहली पसंद

Tricity Today | Priyanka Gandhi

प्रियंका गांधी लड़ेंगी यूपी का विधानसभा चुनाव, ये दो सीट हैं पहली पसंद UP Vidhansabha Chunav 2022 : उत्तर प्रदेश में अगले साल की शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election) को लेकर सारे राजनीतिक दलों ने कमर कस ली है। राज्य में सरगर्मियां तेज हैं। इसी बीच एक बड़ी जानकारी मिल रही है। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश के प्रभारी प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) विधानसभा चुनाव लड़ेंगी। दो विधानसभा सीटें उनकी पहली पसंद हैं। जिन पर कांग्रेस ने शुरुआती सर्वे भी करवा लिया है। जानकारी यह भी मिली है कि बहुत जल्दी उनकी उम्मीदवारी घोषित कर दी जाएगी।

इन दो जिलों पर कांग्रेस की नजर
कांग्रेस के विश्वसनीय सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक प्रियंका गांधी अमेठी और रायबरेली में से किसी एक जिले की विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगी। अमेठी और रायबरेली गांधी खानदान के पारंपरिक निर्वाचन क्षेत्र रहे हैं, लेकिन पिछले एक दशक के दौरान भारतीय जनता पार्टी की आक्रामक रणनीति के सामने कांग्रेस के तेवर फीके पड़ते जा रहे हैं। अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि पिछले लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी को अमेठी से शिकस्त दे दी थी। अब प्रियंका गांधी अमेठी से चुनाव लड़ कर एक बार फिर हाथ से निकली इस सीट को वापस हासिल करना चाहती हैं।

विधानसभा के समांतर लोकसभा चुनाव पर नजर
अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के समांतर प्रियंका गांधी की नजर वर्ष 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव पर भी है। कांग्रेस के रणनीतिकारों का मानना है कि अगर प्रियंका गांधी अमेठी से चुनाव मैदान में उतरती हैं तो यहां एक बार फिर पुराने कांग्रेसियों में मजबूती आएगी। जिसका लाभ 2024 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को मिलेगा। दरअसल, प्रियंका गांधी और कांग्रेस एक बार फिर अमेठी संसदीय क्षेत्र को स्मृति ईरानी से मिलने की योजना बना रहे हैं। यही वजह है कि प्रियंका गांधी की पहली पसंद अमेठी विधानसभा क्षेत्र है।

गांधी खानदान से पहली बार को विधानसभा चुनाव लड़ेगा
प्रियंका गांधी का यह फैसला एक और मायने में बड़ा साबित होने वाला है। दरअसल, गांधी खानदान से अब तक किसी भी सदस्य ने विधानसभा चुनाव नहीं लड़ा है। पंडित जवाहरलाल नेहरू से लेकर राहुल गांधी तक सभी ने सीधे लोकसभा चुनाव लड़ा है। अगर प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में उतरती है तो यह अपने आप में एक बड़ा राजनीतिक घटनाक्रम बनने वाला है।

पक्ष में प्रशांत किशोर और सलमान खुर्शीद जैसे रणनीतिकार
प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में उतरें, यह कांग्रेस के रणनीतिकार भी चाहते हैं। मिली जानकारी के मुताबिक प्रशांत किशोर ने पिछली मीटिंग के दौरान प्रियंका गांधी को यह राय दी है। प्रशांत किशोर चाहते हैं कि प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बतौर उम्मीदवार उतरें। इससे कांग्रेस की चुनौतियों को राज्य में बल मिलेगा। प्रशांत किशोर का यह भी मानना है कि अगर कांग्रेस को अपना प्रदर्शन राज्य में सुधारना है तो प्रियंका गांधी को विधानसभा चुनाव लड़ना होगा। इससे पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के थिंक टैंक में शामिल सलमान खुर्शीद भी प्रियंका गांधी को उत्तर प्रदेश में बतौर मुख्यमंत्री प्रत्याशी प्रोजेक्ट करने की बात कह चुके हैं।

अमेठी से कांग्रेस का इलेक्शन ट्रैक रिकॉर्ड बेहद शानदार
अमेठी संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस का चुनावी इतिहास बेहद शानदार रहा है। अमेठी में अब तक हुए 19 चुनाव में से 16 बार कांग्रेस ने जीत हासिल की है। खास बात यह है कि अमेठी में 17 बार लोकसभा के सामान्य और दो उपचुनाव हुए हैं। कांग्रेस ने 16 बार जीत हासिल की है। सिर्फ तीन बार वर्ष 1977, 1998 और 2019 में कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा है। वर्ष 1977 में इमरजेंसी के बाद हुए चुनाव में पहली बार यहां से कांग्रेस हारी थी। इसके बाद 1980 में संजय गांधी यहां से सांसद बने थे। संजय गांधी की मौत के बाद राजीव गांधी ने अमेठी को अपना कार्यक्षेत्र बनाया। दूसरी बार वर्ष 1999 में कांग्रेसी सीट पर हारी। कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने यहां से राजनीति की शुरुआत की। राहुल गांधी ने भी इस संसदीय क्षेत्र से तीन बार वर्ष 2004, 2009 और 2014 में जीत हासिल की थी। पिछले लोकसभा चुनाव में वर्ष 2019 में राहुल गांधी स्मृति ईरानी के सामने यह सीट हार गए।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.