BIG BREAKING: यूपी में बिना मास्क के पकड़े जाने पर लगेगा भारी जुर्माना, दूसरी बार में देना होगा दस गुना

यूपी में बिना मास्क के पकड़े जाने पर लगेगा भारी जुर्माना, दूसरी बार में देना होगा दस गुना

Tricity Today | समीक्षा करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश में बिना मास्क के घूमने पर अब जुर्माना देना पड़ेगा। योगी आदित्यनाथ सरकार ने शुक्रवार की सुबह अहम फैसला लेते हुए बिना मास्क लगाए घुमने वाले लोगों पर 1000 रुपये का जुर्माना लगाया है। लेकिन अगर कोई व्यक्ति दूसरी बार बिना मास्क के पकड़ा जाएगा, तो जुर्माना 10 गुना कर दिया जाएगा। उससे 10000 रुपये वसूले जाएंगे। शुक्रवार की सुबह टीम-11 के साथ हुई अहम बैठक में कई दूसरे अन्य महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। मुख्यमंत्री ने लखनऊ में 1000 बेड का नया कोविड-19 हॉस्पिटल स्थापित करने के लिए तत्काल प्रभाव से कार्य शुरू करने का आदेश दिया है।

बताते चलें कि प्रदेश में कोरोना वायरस फिर से विकराल रूप अख्तियार कर चुका है। खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, टीम-11 के अफसर और लोक भवन के ज्यादातर कर्मचारी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। कई जगहों पर लोगों में खतरनाक वायरस का बिल्कुल खौफ नहीं है। ऐसे लोगों के लिए सरकार ने जुर्माने का प्रावधान किया है। बिना मास्क के घूमने वाले और घर से बिना मास्क लगाए बाहर निकलने वाले लोगों से पहली बार 1000 जुर्माना राशि ली जाएगी। लेकिन अगर किसी व्यक्ति को दूसरी बार बिना मास्क के बाहर घूमते पाया गया, तो उससे 10 गुना, 10000 रुपये जुर्माना वसूला जाएगा।

मुख्यमंत्री ने सभी मंडलायुक्त, जिलाधिकारी, सीएमओ और टीम-11 के सदस्यों को समीक्षा बैठक कर आवश्यक दिशानिर्देश जारी करने का आदेश दिया। उन्होंने लखनऊ में 1000 बेड का नया कोविड अस्पताल स्थापित करने के लिए तत्काल कार्य शुरू कराने को कहा है। कोविड टेस्ट लिए सरकारी और निजी लैब पूरी क्षमता के साथ कार्य करें। कोविड़ टेस्टिंग के लिए शासन स्तर पर दरें भी तय की जा चुकी है। जिला प्रशासन क्वालिटी कंट्रोल के साथ इन व्यवस्थाओं को लागू किया जाना सुनिश्चित करें।

प्रदेश के सभी अस्पतालों में ओपीडी सेवाएं ठप रहेंगी। टेलीकन्सल्टेशन को बढ़ावा दिया जाए। सरकारी अस्पतालों में केवल आपातकालीन सेवा ही संचालित हों। मुख्यमंत्री आरोग्य मेलों का आयोजन 15 मई तक के लिए स्थगित रखा जाएगा। इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर में प्रतिदिन डीएम, पुलिस कप्तान और सीएमओ नियत समय पर बैठक करें। स्थानीय स्थिति की समीक्षा कर आगे की रणनीति तय करें। अस्पताल में इलाज रख तथा होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों की जरूरतों और समस्याओं का पूरा ध्यान रखें। सीएम हेल्पलाइन 1076 के माध्यम से मरीजों से लगातार संवाद बनाए रखा जाए। हर दिन की स्थिति में मुख्यमंत्री कार्यालय को अवगत कराएं।

सभी कोविड अस्पतालों में ऑक्सीजन की अनवरत आपूर्ति बनी रहे। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा मेडिकल ऑक्सीजन की सुचारू आपूर्ति के संबंध में स्थापित कंट्रोल रूम 24 ×7 सक्रिय रहे। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग रेमीडीसीवीर की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करें। मुख्य सचिव कार्यालय से इसकी मॉनिटरिंग की जाए। आगामी 1 माह की स्थिति का आकलन करते हुए अतिरिक्त रेमिडीसीवीर क्रय किया जाए।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.