पर्यटकों के लिए खुशखबरी, फ्री में करें ताजमहल का दीदार, इन जगहों पर भी निशुल्क प्रवेश

Agra : पर्यटकों के लिए खुशखबरी, फ्री में करें ताजमहल का दीदार, इन जगहों पर भी निशुल्क प्रवेश

पर्यटकों के लिए खुशखबरी, फ्री में करें ताजमहल का दीदार, इन जगहों पर भी निशुल्क प्रवेश

Google Image | ताजमहल

पर्यटकों के लिए खुशखबरी, फ्री में करें ताजमहल का दीदार, इन जगहों पर भी निशुल्क प्रवेश Agra : शनिवार के दिन अगर आप कहीं छुट्टी मनाने जाना चाहते हैं तो यह खबर आपके लिए खास है। 19 नवंबर को आगरा के तमाम पर्यटक स्थल पर निशुल्क प्रवेश होगा। जिसमें ताजमहल, आगरा किला, फतेहपुर सीकरी समेत सभी स्मारकों में बिना टिकट के घूम सकेंगे। विश्व धरोहर सप्ताह के शुभारंभ पर 19 नवंबर को भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने देश के सभी स्मारकों में निशुल्क प्रवेश की सुविधा दी है। इसको लेकर आदेश जारी कर दिया गया है। बता दें कि 19 नवंबर को शनिवार है। शनिवार और रविवार के दिन पर्यटकों की भारी भीड़ उमड़ती है। ऐसे में नोएडा एनसीआर के पर्यटक अधिक संख्या में आगरा पहुंचते हैं।
 
कब्र देखने के लिए 200 रुपए चार्ज

पहली बार ताजमहल में केवल प्रवेश निशुल्क होगा, लेकिन स्टेप टिकटिंग जारी रहेगी। यानी 50 रुपए का प्रवेश शुल्क 19 नवंबर को नहीं खरीदना होगा, लेकिन मुख्य गुंबद पर जाने और शाहजहां मुमताज की कब्र देखने के लिए 200 रुपए का अतिरिक्त टिकट खरीदना पड़ेगा। यह व्यवस्था पहली बार इसलिए लागू की गई है क्योंकि पिछली बार ताजमहल में फ्री एंट्री होने की वजह से उमड़ी भीड़ का काफी दबाव बढ़ गया था। इसलिए भीड़ को नियंत्रित करने के लिए यह निर्णय लिया गया है। वही 2016 से ताज के गुंबद पर लगाए गए अतिरिक्त टिकट को विश्व धरोहर सप्ताह या अन्य किसी भी निशुल्क व्यवस्था वाले दिन मुक्त रखा जाता था।

व्यवस्था रहेगी चाक-चौबंद
आगरा एएसआई अधीक्षक राजकुमार पटेल ने बताया कि विश्व धरोहर सप्ताह 19 नवंबर से शुरू होगा जो 25 नवंबर तक चलेगा। इस दौरान आगरा के स्मारकों में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। साथ इस अवसर पर ताजमहल का प्रवेश निशुल्क किया जाएगा, लेकिन मुख्य गुंबद पर शाहजहां मुमताज की कब्रें देखने जाने के लिए जो 200 रुपए का शुल्क लगता है, वह बरकरार रहेगा। भीड़ नियंत्रण के लिए इस बार यह कदम उठाया गया है। निशुल्क होने के कारण भारी संख्या में पर्यटक मुख्य गुंबद पर पहुंच जाते हैं, जिसे नियंत्रित करना मुश्किल है।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.