योगी सरकार ने शराब माफिया की एक अरब की संपत्ति जब्त की, 500 से ज्यादा तस्कर गिरफ्तार  

बड़ी खबर : योगी सरकार ने शराब माफिया की एक अरब की संपत्ति जब्त की, 500 से ज्यादा तस्कर गिरफ्तार  

योगी सरकार ने शराब माफिया की एक अरब की संपत्ति जब्त की, 500 से ज्यादा तस्कर गिरफ्तार  

Google Image | उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

योगी सरकार ने शराब माफिया की एक अरब की संपत्ति जब्त की, 500 से ज्यादा तस्कर गिरफ्तार   Uttar Pradesh : उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) की अगुवाई में शराब माफिया के खिलाफ लगातार अभियान चल रहा है। प्रदेश के सभी 75 जनपदों में पुलिस और आबकारी विभाग की टीमें बड़े स्तर पर छापेमारी कर अवैध नशे के कारोबार की कमर तोड़ रही हैं। इसी का असर है कि अब तक उत्तर प्रदेश सरकार ने 101 शराब माफिया की 1 अरब से ज्यादा की संपत्ति जब्त की है। 

करीब 600 शराब माफियाओं को चिन्हित किया है। जिनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने छापेमारी को और तेज करने तथा इस काले कारोबार को खत्म करने का आदेश दिया है। आंकड़ों के मुताबिक अब तक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार ने शराब माफिया के खिलाप 3400 से ज्यादा मुकदमे दर्ज किए हैं। 534 से ज्यादा शराब माफिया को गिरफ्तार किया गया है। 367 के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई शुरू हो गई है। 11 माफिया की संपत्ति कुर्क की गई है। 101 शराब माफियाओं की एक अरब 13 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई है। 

अपर मुख्य सचिव आबकारी संजय आर. भूसरेड्डी ने बताया कि विभाग प्रदेश में अवैध शराब के निर्माण, बिक्री एवं तस्करी की रोकथाम के लिए लगातार दबिश एवं चेकिंग की कार्यवाही की जा रही है। आबकारी विभाग ने सितंबर के प्रथम सप्ताह में प्रदेश में 1816 अभियोग पकड़े। इसमें 36,917 लीटर अवैध शराब बरामद की गयी। शराब बनाने के लिए तैयार किये गये 1,80,560 किग्रा लहन को मौके पर नष्ट किया गया। अवैध मदिरा के कार्य में संलिप्त 738 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया तथा 11 वाहन जब्त किये गये। 

अवैध शराब के विरूद्ध लगातार की जा रही छापेमारी में अवैध शराब कारोबारियों का आर्थिक ढ़ांचा टूट रहा है। इसके कारण अवैध शराब कारोबारी शराब का कारोबार छोड़ने पर विवश हो रहे हैं। सहारनपुर में जमानत पर छूटकर आये शराब कारोबारी संदीप ने भविष्य में मदिरा तस्करी न करने का शपथ पत्र प्रस्तुत किया है। आबकारी आयुक्त ने बताया कि अवैध मदिरा के निर्माण, बिक्री एवं तस्कारी के विरूद्ध लगातार छापेमारी की कार्रवाई जारी रहेगी। इसके अतिरिक्त आबकारी दुकानों के निरीक्षण किये जाने के लिये क्षेत्रीय अधिकारियों को लगातार निर्देश दिये जा रहे हैं।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.