BIG BREAKING: यमुना एक्सप्रेसवे पर भीषण जाम, हजारों वाहन फंसे

यमुना एक्सप्रेसवे पर भीषण जाम, हजारों वाहन फंसे

Tricity Today | जेवर टोल प्लाजा पर लगा भीषण जाम

Yamuna Expressway: यमुना एक्सप्रेसवे होते हुए ग्रेटर नोएडा से मथुरा-आगरा जाने वाले हजारों मुसाफिर शनिवार की सुबह से ही जेवर टोल प्लाजा (Jewar Toll Plaza) पर लंबी लाइनों में फंसे हुए हैं। जेवर टोल प्लाजा पर कई किलोमीटर लंबा जाम लगा हुआ है और हजारों वाहन एक्सप्रेसवे पर खड़े हैं। सुबह गंतव्य को निकले लोग अभी गौतमबुद्ध नगर जिले के दायरे से भी नहीं निकल पाए हैं। परेशान यात्री इसकी शिकायत केंद्रीय सड़क राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से कर रहे हैं। साथ ही फास्टैग को लेकर भी सवालिया निशान उठा रहे हैं। 

जाम में फंसे लोगों का कहना है कि तेज सुविधा देने के लिए फास्टैग (Fastag) शुरू की गई थी। लेकिन देश के पहले एक्सप्रेसवे पर हजारों वाहन टोल प्लाजा पर खड़े हैं। खबर लिखे जाने तक स्थिति में कोई खास सुधार नहीं है। हजारों गाड़ियां अब भी लाइन में लगी हुई हैं। बताते चलें कि ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) से आगरा (Agra) तक यात्रा बेहद राहत और सुकून भरी रहती है। देश का पहला एक्सप्रेसवे, यमुना एक्सप्रेसवे (Yamuna Expressway) मुसाफिरों को बेहतरीन सफर के लिए आकर्षित करता है। लेकिन शनिवार की सुबह हजारों यात्री जाम में ऐसे फंसे कि उन्हें कुछ समझ में नहीं आ रहा।

गौतमबुद्ध नगर के जेवर टोल प्लाजा (Jewar Toll Plaza) पर गाड़ियों की लंबी लाइन लग गई। वाहन रेंग-रेंगे कर आगे बढ़ रहे हैं। ऐसे में लोगं को परेशानियों से दो-चार होना पड़ रहा है। जाम में फंसे लोग इसके लिए जेवर टोल प्रबंधन को भी जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। यमुना एक्सप्रेसवे (Yamuna Expressway) पर फंसे केशव सिंह सोशल मीडिया पर लिखते हैं कि, ग्रेटर नोएडा-आगरा के यमुना एक्सप्रेसवे के जेवर टोल प्लाजा पर इतना लंबा जाम देखकर उदास हूं। जाम में फंसे आकाश पाठक सोशल मीडिया पर लिखते हैं कि, टोल प्लाजा पर खड़े हुए कई घंटे हो गए। 

एक दूसरे यात्री राकेश स्वामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को टैग करते हुए लिखा है कि, यमुना एक्सप्रेसवे के जेवर टोल प्लाजा पर डिजिटल इंडिया अभियान दम तोड़ रहा है। यहां फास्टैग भी पूरी तरह से लागू नहीं हुआ है। लोग घंटों से लाइनों में लगे हैं और गंतव्य तक पहुंचने की राह देख रहे हैं। इससे लोगों को तेज रफ्तार देने के लिए बने एक्सप्रेसवे-हाईवे का उद्देश्य भी धूमिल हो रहा है। उन्होंने भारत सरकार से ऐसे गंभीर विषय पर फौरन एक्शन की मांग की है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.