BIG BREAKING : जेवर एयरपोर्ट का झांसा देकर कॉलोनी बसा रहे बिल्डरों पर हुई बड़ी कार्रवाई, यमुना प्राधिकरण ने की तोड़फोड़

जेवर एयरपोर्ट का झांसा देकर कॉलोनी बसा रहे बिल्डरों पर हुई बड़ी कार्रवाई, यमुना प्राधिकरण ने की तोड़फोड़

Tricity Today | जेवर एयरपोर्ट का झांसा देकर कॉलोनी बसा रहे बिल्डरों पर हुई बड़ी कार्रवाई

जेवर एयरपोर्ट का झांसा देकर आम आदमी से ठगी कर रहे कॉलोनाइजर और बिल्डरों पर यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने मंगलवार की दोपहर बड़ी कार्रवाई की है। अलीगढ़ के टप्पल इलाके में बसाई जा रही कॉलोनी को ध्वस्त कर दिया गया है। प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने इन कॉलोनाइजर के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है। साथ ही लोगों से अपील की है कि यमुना प्राधिकरण के नाम पर अगर कोई भूखंड बेचने का दावा करता है तो उसकी तत्काल जानकारी दें। ऐसे जालसाजों पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।

यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण से मिली जानकारी के मुताबिक अलीगढ़ के टप्पल कस्बे के पास अवैध रूप से एक कॉलोनी बसाई जा रही थी। जिसका प्रचार यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण और जेवर में बन रहे इंटरनेशनल एयरपोर्ट को आधार बनाकर किया जा रहा था। कॉलोनाइजर और बिल्डर दावा कर रहे थे कि यह कॉलोनी पूरी तरह अप्रूव है। उनके पास यमुना प्राधिकरण और तमाम दूसरे विभागों की जरूरी अनापत्ति है। यमुना प्राधिकरण के फील्ड स्टाफ ने इसके बारे में मुख्यालय को जानकारी दी। 

जिसके बाद मुख्य कार्यपालक अधिकारी अरुण वीर सिंह ने कार्यवाही करने का आदेश दिया। अरुण वीर सिंह ने बताया कि कॉलोनी को तोड़ दिया गया है। उन्होंने जाकर कार्यालय को भी ध्वस्त कर दिया गया है। इन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई जा रही है। अरुण वीर सिंह ने आम आदमी को सलाह दी है कि ऐसे कॉलोनाइजर और बिल्डरों के झांसे में नहीं आए। यमुना प्राधिकरण के अधिसूचित इलाकों में किसी को भी कॉलोनी बसाने का अधिकार नहीं है। यमुना प्राधिकरण किसी भी बिल्डर या कॉलोनाइजर को इस तरह कॉलोनी बसाने की अनुमति नहीं देता है। 

सीईओ ने कहा कि लोग अपनी मेहनत की कमाई प्राधिकरण की आधिकारिक योजनाओं में निवेश करें। इस तरह की कॉलोनी अवैध है और उन्हें संज्ञान में आते ही तत्काल गिरा दिया जाएगा। अरुण वीर सिंह ने लोगों से अपील की है कि ऐसे मामले संज्ञान में आए तो तत्काल जानकारी दें।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.