ऑक्सीजन सिलेंडर और कंसंट्रेटर के बाद अब निःशुल्क एंबुलेंस सुविधा उपलब्ध कराएगा

यमुना प्राधिकरण की बड़ी पहल : ऑक्सीजन सिलेंडर और कंसंट्रेटर के बाद अब निःशुल्क एंबुलेंस सुविधा उपलब्ध कराएगा

ऑक्सीजन सिलेंडर और कंसंट्रेटर के बाद अब निःशुल्क एंबुलेंस सुविधा उपलब्ध कराएगा

Tricity Today | Yamuna Authority

ऑक्सीजन सिलेंडर और कंसंट्रेटर के बाद अब निःशुल्क एंबुलेंस सुविधा उपलब्ध कराएगा यमुना प्राधिकरण (Yamuna Expressway Authority) अपने दायरे में आने वाले गांवों के लोगों को निःशुल्क एंबुलेंस (Free Ambulance) सुविधा उपलब्ध कराएगा। यमुना प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ अरुण वीर सिंह खुद सारे अभियान की निगरानी कर रहे हैं। एंबुलेंस की सुविधा अथॉरिटी के ऑक्सीजन रिफिलिंग सेंटर से मिलेगी। इसके लिए अथॉरिटी दो एंबुलेंस किराए पर ले रहा है। जबकि गुरुवार को प्राधिकरण ने एक एंबुलेंस जेवर सामुदायिक केंद्र को सौंप दिया है। निवासियों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए प्राधिकरण अगले सोमवार से टेलीमेडिसिन सुविधा का भी आरम्भ कराएगा। ताकि कोरोना महामारी के इस बुरे दौर में लोगों को घर पर ही स्वास्थ्य संबंधी सुझाव और जानकारी मिलती रहे। 

किराए पर लेगा : बताते चलें कि यमुना प्राधिकरण के दायरे में 96 गांव आते हैं। इन सभी गांवों के निवासियों को प्राधिकरण के ऑक्सीजन रिफिलिंग सेंटर से एंबुलेंस की निशुल्क सुविधा मिलेगी। इसके लिए प्राधिकरण दो एंबुलेंस किराये पर ले रहा है। फिलहाल इसकी प्रक्रिया चल रही है। गुरुवार को नोएडा अपैरल एक्सपोर्ट क्लस्टर ने यमुना प्राधिकरण को एक एंबुलेंस सौंपी है। इस क्लस्टर के अगुआ ललित ठूकराल ने यमुना प्राधिकरण के सीईओ डॉ. अरुण वीर सिंह को एंबुलेंस सौंप दी है। परेशानी को देखते हुए इस एंबुलेंस को जेवर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को दिया गया है। इसके अलावा पांच कंसंट्रेटर भी दिए गए। यमुना प्राधिकरण (Yamuna Authority) ने सीएसआर फंड से रबूपुरा पीएचसी को 25 बेड दिए हैं। इससे ग्रामीणों को काफी राहत मिल रही है। सीईओ डॉ अरुण वीर सिंह ने कहा कि प्राधिकरण लोगों की सुविधा के लिए सदैव तत्पर है। 

टेलीमेडिसिन की सुविधा मिलेगी : प्राधिकरण अपने दायरे में आने वाले गांवों के निवासियों के लिए सोमवार से टेलीमेडिसिन की सुविधा शुरू करेगा। इसमें शहर के प्रसिद्ध फिजीशियन डॉ. धीरज सिंघल भी अपनी सेवाएं देंगे। वह सप्ताह में 3 दिन उपलब्ध रहेंगे और टेलीमेडिसिन के जरिए ग्रामीणों को स्वास्थ्य सलाह देंगे। इसके अलावा प्राधिकरण दो अन्य डॉक्टर को अपने यहां रखेगा। ये डॉक्टर सप्ताह के सभी दिन ग्रामीणों को टेलीमेडिसिन की सुविधा देंगे। इससे गांवों के लोगों को छोटी-मोटी बीमारियों और सुझाव के लिए शहर आने की जरूरत नहीं होगी। साथ ही कोविड फैलने का खतरा कम रहेगा।

 

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.