ग्रेटर नोएडा के किसानों के लिए बड़ी खबर यमुना प्राधिकरण ने किसानों को दिया बड़ा ऑफर, हेरिटेज सिटी और लॉजिस्टिक हब के लिए लैंड पूलिंग होगी

यमुना प्राधिकरण ने किसानों को दिया बड़ा ऑफर, हेरिटेज सिटी और लॉजिस्टिक हब के लिए लैंड पूलिंग होगी

Tricity Today | Yamuna Authority

यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण की सोमवार को हुई बोर्ड बैठक में किसानों के लिए बड़ा फैसला लिया है। प्राधिकरण ने किसानों को बड़ा ऑफर दिया है। टप्पल में लॉजिस्टिक हब और राया में हेरिटेज सिटी बसाने के लिए यमुना प्राधिकरण बोर्ड ने हरी झंडी दे दी है। इन परियोजनाओं के लिए प्राधिकरण लैंड पूलिंग के जरिये किसानों से जमीन लेगा। राया में प्रस्तावित हेरीटेज सिटी 731 हेक्टेयर में बसाई जाएगी। दोनों शहरों की डीपीआर बनाने के लिए एजेंसी के चयन की प्रक्रिया चल रही है। जल्द ही एजेंसी का चयन हो जाएगा।

सोमवार को हुई यमुना प्राधिकरण की बोर्ड बैठक में टप्पल व राया में नई सिटी बसाने के लिए अनुमति दे दी गई। राया में हेरिटेज सिटी बसाई जाएगी। यह शहर करीब 731 हेक्टेयर में बसाया जाएगा। 190 हेक्टेयर में रीवर फ्रंट विकसित किया जाएगा। यहां पर वृंदावन की झलक दिखेगी। पर्यटन के लिहाज से यह महत्वर्पूण शहर होगा। इसके साथ ही टप्पल में लॉजिस्टिक पार्क विकसित किया जाएगा। इसमें बुकिंग ऑफिस, वेयर हाउस, गोडाउन, कोल्ड स्टोर, क्योस्क, ट्रक पार्किंग, लोडिंग-अनलोडिंग स्पेस, मरम्मत की दुकान, पेट्रोल पंप, फूड कोर्ट, रेस्टोरेंट आदि की सुविधा होगी। दोनों शहरों की डीपीआर बनवाने के लिए एजेंसी के चयन की प्रक्रिया चल रही है। प्राधिकरण बोर्ड ने फैसला लिया है कि इन दोनों शहरों के अलावा अन्य नई परियोजनाओं के लिए लैंड पूलिंग से जमीन ली जाएगी। इसमें प्राधिकरण को अधिक पैसा भी नहीं खर्च करना पड़ेगा। अगर किसान नहीं मानते हैं तो फिर अधिग्रहण और सीधे किसानों से खरीद के विकल्पों पर विचार किया जाएगा।

फेज-2 में लॉजिस्टिक नीति लागू

प्राधिकरण बोर्ड ने यह भी फैसला लिया है कि फेस-2 के मास्टर प्लान में भी लॉजिस्टिक नीति लागू की जाएगी। अभी तक यह नीति फेज-1 में लागू थी। फेज-2 में यह नीति लागू होने से टप्पल में प्रस्तावित लॉजिस्टिक पार्क के लिए ली जाने वाली जमीन औद्योगिक दर पर ली जाएगी। पहले लॉजिस्टिक के लिए व्यावसायिक दर पर जमीन मिलती है।

जमीन खरीद के लिए एजेंसी का चयन होगा

किसानों से जमीन खरीदने, लैंड बैंक बनाने के लिए यमुना प्राधिकरण एक एजेंसी का चयन करेगा। इसके लिए जल्द प्रक्रिया शुरू होगी। यह एजेंसी किसानों की फाइल बनवाने, प्रक्रिया पूरी कराने का काम करेगी। अगले एक साल में प्राधिकरण 10 हजार हेक्टेयर जमीन खरीदेगा। इसलिए एजेंसी की तलाश की जा रही है।

ट्रामा सेंटर और 100 बेड के अस्पताल के लिए जमीन दी

यमुना प्राधिकरण ने एक्सप्रेस वे के किनारे ट्रामा सेंटर व 100 बेड के अस्पताल के लिए 6 एकड़ जमीन देने के लिए सहमति दे दी है। यह जमीन स्वास्थ्य विभाग को निशुल्क दी जाएगी। यह ट्रामा सेंटर जनपद का पहला सरकारी ट्रामा सेंटर होगा। स्वास्थ्य विभाग ट्रामा सेंटर व 100 बेड का अस्पताल बनवाएगा।

थानों की जमीन का प्रस्ताव पास

यीडा सिटी के सेक्टर-18, सेक्टर-29, सेक्टर-25 ए, दयानतपुर में और रन्हेरा में पुलिस थाना बनाने के लिए जमीन देने पर सहमति बन गई। यह जमीन निशुल्क दी जाएगी।

220 केवीए सब स्टेशन और लाइन बनेगी

यीडा सिटी में 220 केवी सब स्टेशन बनाने और 220 केवी लाइन बनाने के लिए फैसला लिया गया। यह काम यूपीपीटीसीएल से कराया जाएगा। काम फाइनल करने से पहले सुपरविजन आदि मदों में लिए जाने वाले शुल्क कम कराने के लिए यूपीपीटीसीएल से वार्ता की जाएगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.