पैरा ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाले प्रवीण कुमार के माता-पिता से योगी आदित्यनाथ बोले- आपके बेटे ने सबका नाम रोशन कर दिया

खुशी की लहर : पैरा ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाले प्रवीण कुमार के माता-पिता से योगी आदित्यनाथ बोले- आपके बेटे ने सबका नाम रोशन कर दिया

पैरा ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाले प्रवीण कुमार के माता-पिता से योगी आदित्यनाथ बोले- आपके बेटे ने सबका नाम रोशन कर दिया

Tricity Today | प्रवीण कुमार के माता-पिता से योगी आदित्यनाथ से की बातचीत

पैरा ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाले प्रवीण कुमार के माता-पिता से योगी आदित्यनाथ बोले- आपके बेटे ने सबका नाम रोशन कर दिया
  • - गौतमबुद्ध नगर के गोविंदगढ़ गांव के रहने वाले हैं पैरा ओलंपियन प्रवीण कुमार
  • - जेवर विधायक धीरेंद्र सिंह शुक्रवार की दोपहर प्रवीण के माता-पिता बधाई देने गए
  • - गांव से फोन पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से दोनों की बात करवाई
  • - मुख्यमंत्री ने कहा- प्रवीण ने सबका नाम रोशन किया, उन्हें सम्मानित किया जाएगा
  • - शुक्रवार की सुबह ऊंची कूद में प्रवीण कुमार ने शानदार प्रदर्शन कर सिल्वर मेडल जीता
Tokyo Para Olympic : टोक्यो पैरा ओलंपिक में गौतमबुद्ध नगर के सपूत ने बड़ी कामयाबी हासिल की है। गोविंदगढ़ गांव के एक किसान परिवार के बेटे प्रवीण कुमार सिंह ने देश का नाम रोशन किया है। प्रवीण कुमार ने शुक्रवार की सुबह ऊंची कूद प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन करते हुए रजत पदक हासिल किया। इसके बाद से गौतमबुद्ध नगर में खुशी का माहौल है। प्रवीण कुमार के घर बधाइयों का तांता लगा हुआ है। इसी सिलसिले में जेवर से भारतीय जनता पार्टी के विधायक ठाकुर धीरेंद्र सिंह उनके घर पहुंचे। उनके माता-पिता से मुलाकात की। धीरेंद्र सिंह ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को फोन किया और प्रवीण सिंह के माता-पिता से बात करवाई। इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने उन्हें बधाई देते हुए कहा, "आपके बेटे ने पूरे देश का नाम रोशन कर दिया है। राज्य सरकार उनका शानदार स्वागत और सम्मान करेगी।

18 साल की उम्र में रचा इतिहास
ग्रेटर नोएडा के निवासी और केवल 18 वर्षीय प्रवीण कुमार ने पुरुष हाई जंप टी-44 वर्ग में 2.07 मीटर की कूद लगाकर विश्व में दूसरा नंबर हासिल किया। प्रवीण कुमार इससे पहले अन्य अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अपना दम दिखा चुके हैं। उन्होंने पहले ही पैरा ओलंपिक में 2 मीटर से अधिक छलांग लगाने का लक्ष्य रखने की बात कही थी। प्रवीण कुमार विश्व में दूसरे नंबर पर रहे। उन्होंने अपने लक्ष्य को पूरा कर लिया है। प्रवीण कुमार की इस जीत के बाद गौतमबुद्ध नगर में खुशी का माहौल है।

चैंपियनशिप में 10 से ज्यादा गोल्ड मेडल किए अपने नाम 
दिव्यांग प्रवीण कुमार मूलरूप से जेवर के गोविंदगढ़ के निवासी है। वह पैरा ओलंपिक में भाग लेने वाले गौतम बुद्ध नगर जनपद के यह तीसरे खिलाड़ी हैं। उन्होंने 2019 में जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में रजत पदक जीता था, साल 2019 नवंबर में ही प्रवीण कुमार ने सीनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में चौथा स्थान हासिल किया। उन्होंने 2.5 मीटर तक कूदकर वर्ल्ड ग्राप्री में एशिया रिकॉर्ड बनाया है। प्रवीण कुमार इससे पहले नेशनल और स्टेट चैंपियनशिप में 10 से ज्यादा गोल्ड मेडल अपने नाम कर चुके हैं। 

पीएम मोदी ने दी बधाई
सिल्वर मेडल जीतने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रवीण को ट्वीट करके उनकी इस उपलब्धि पर बधाई दी। पीएम ने लिखा, 'पैरालंपिक में सिल्वर मेडल जीतने पर आप पर गर्व हैं प्रवीण। यह मेडल उनकी कड़ी मेहनत और समर्पण का नतीजा है। उनको बहुत बधाई हो। भविष्य के लिए उनको शुभकामनाएं।' पैरालांपिक में यह भारत का अबतक का बेस्ट प्रदर्शन है और कई सालों के बाद देश की मेडल टैली दोहरे अंक में पहुंच सकी है।

डीएम सुहास एलवाई सेमीफाइनल में हारे
वहीं, दूसरी ओर गौतमबुद्ध नगर के डीएम सुहास एलवाई को सेमीफाइनल में हार का मुंह हार का मुंह देखने को मिला है। टोक्यो पैरालम्पिक बैडमिंटन में पुरुष सिंगल्स के एसएल-4 मुकाबले में वह अब चैम्पियनशिप से बाहर हो गए। सुहास एलवाई को फ्रांस के लुकास मजूर ने मात दी। सेमीफाइनल के पहले राउंड में सुहास एलवाई लुकास मजूर पर भारी पड़ते नजर आ रहे थे लेकिन फिर भी उनको हार का सामना करना पड़ा। अब सुहास फाइनल से बाहर हो गए।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.