बड़ी ख़बरें

फर्जी कागजात बनाकर 48 लाख में बेच दिया खेत, एक साल बाद दबोचा

TricityToday Correspondent

ग्रेटर नोएडा के यमुना एक्सप्रेस-वे पर निवेश के इरादे से जमीन खरीदने वालों को ठगने वाला फर्जी प्राॅपर्टी डीलर कासना पुलिस ने दबोच लिया हैै। आरोपी एक साल से फरार चल रहा था। रविवार सुबह आरोपी को परीचौक से गिरफ्तार कर लिया गया है। इस पर धोखाखड़ी और जान से मारने की धमकी के आरोप में मुकदमा दर्ज था।

गाजियाबाद के रहने वाले अमित ग्रेटर नोएडा में प्राॅपटी खरीदना चाहते थे। दो साल पहले उनकी मुलाकात लखनऊ निवासी फसी अहमद से हुई, जो फिलहाल एडब्ल्यूएचओ सोसाइटी में रहता है। आरोपी फसी अहमद ने खुद को प्राॅपटी डीलर बताया और अमित को ग्रेटर नोएडा में यमुना एक्सप्रेस वे के पास जमीन दिलाने की बात कही। आरोपी ने अमित को एक खेत दिखाया। बात पक्की होने पर फसी अहमद ने खेत के फर्जी कागजात तैयार कर 48 लाख रूपये में अमित को बेच दिया। कुछ महीनों बाद अमित उस खेत पर गए तो वहां किसान को खेती करते पाया। पूरी जानकारी जुटाने पर अमित को पता चला कि उनके साथ धोखाधड़ी की गई है। 

बात समझ आने पर अमित ने फसी अहमद को इस बारे में बात की। आरोप है कि वह उनको डराने धमकाने लगा और रूपये वापस करने से मना कर दिया। इसके बाद पीड़ित ने कासना कोतवाली में आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी, जान से मारने की धमकी देने आदि मामलों में मुकदमा कायम कराया। तभी से पुलिस आरोपी की तलाश में लगी थी। वही पुलिस ने रविवार की सुबह आरोपी फसी अहमद को परीचौक के पास से गिरफ्तार कर लिया। कासना कोतवाली इंचार्ज एसके त्यागी ने बताया कि आरोपी कई लोगों के साथ फर्जीवाड़ा कर चुका है।