बड़ी ख़बरें

ग्रेटर नोएडा: क्या सरकार ने लाखों रुपए बर्बाद किये पुलिस चौकी बनवाने में...

Mayank Tawer

ग्रेटर नोएडा के बहुत से थानों और चौकी में आज भी काफी रुपये लगाने के बाद तालों में जकड़े हुए है। हालांकि मीडिया सूत्रों के अनुसार ये अनुमान लगाया गया था कि ग्रेटर नोएडा में अधिक चौकी बनने के बाद अपराधों पर काबू पाया जा सकता है। लेकिन आज चौकी तो मौजूद है पर पुलिसकर्मी नही....

इस बात को खुद सुनीति, एसपी देहात ने कहा था कि ग्रेटर नोएडा की हर एक चौकी पर चौकी इंचार्ज कम से कम 2 घंटे बैठेगा और उसके बाद फील्ड में रहेगा। लेकिन इस बात के दौरान भी आज भी चौकी पर ताले टंगे है।

अंसल मॉल चौकी की बुरी हालत

नॉलेज पार्क के तुगलपुर इलाके में मॉल और कॉलेज होने से अधिक भीड़ रहती है, इस कारण अपराध होने की संभावना कुछ ज्यादा ही बढ़ जाती है। इसलिये चौकी पर पुलिसकर्मी का होना आवश्यक है, इसके बाद भी अंसल पुलिस चौकी पर ताला लटका हुआ मिलता है। यहाँ पर चौकी तो है लेकिन जब भी कोई आपराधिक घटना होती है तो पीड़ित को वारदात की शिकायत करने थाने ही जाना पड़ता है।