बड़ी ख़बरें

शादी के हर्ष में चलाई गोली, दूल्हे को लगी गोली हुई मौके पर ही मौत

Tricity Today Correspondent

शादी में जश्न मनाने के नाम पर बंदूकों से फायरिंग और उससे होने वाली मौत का सिलसिला रोके नहीं रुक रहा है। उत्तर प्रदेश इलाहाबाद के लखीमपुर खीरी जिले में एक ऐसी घटना हुई थी जिसने एक नहीं बल्कि दो परिवार की जिंन्दगी बदल दी। लखीमपुर खीरी जिले के रामपुर गांव में शादी समारोह के जश्न में दूल्हे की मौत से हसी-ख़ुशी मातम में बदल गयी। 

दरअसल, लखीमपुर खीरी जिले के रामपुर गांव में सीतापुर के महोली कोतवाली क्षेत्र के हाजीपुर गांव से बारात आई थी, शादी अपने जश्न में मनाई जा रही थी चारो तरफ ख़ुशी का माहौल था, सेहरा पहनकर बारात लेकर दुल्हन ब्याहने दूल्हा पहुंचा था, द्वारपूजा हो ही रही थी कि अचानक गोली की एक आवाज आई, इसके बाद विवाह का माहौल मातम में तब्दील हो गया, दूल्हे को गोली लग गई।

एक शख्स ने खुशी में फायरिंग करने के लिए रिवॉल्वर खोलने की कोशिश कर रहा था। अचानक इसकी रिवॉल्वर से गोली निकली और दूल्हे के सीने में आकर धंस गई। कोई कुछ समझ पाता, तब तक दूल्हा दम तोड़ चुका था। बताया जा रहा है कि जिस शख्स की रिवॉल्वर से गोली चली, वो लड़के वालों की पक्ष से ही था और उसका नाम रामचंद्र वर्मा है।

इस घटना की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन जिस तरह से शादी समारोह में ये गोलीकांड हुआ, उसने दो परिवारों की खुशियां छीन लीं। अब गमज़दा चेहरे हैं। खामोशी है। जमाने भर का दर्द है। काश, खुशी के मौके पर मौत का कहर बरपाने वाली रिवॉल्वर को दूर रखा गया होता, तो आज दूल्हा जिंदा होता।

लेकिन यह कोई पहली घटना नहीं है, इससे पहले भी ऐसा कई बार हो चूका है। तो फिर आखिर सरकार  शादी समारोह जैसे खास अवसर पर बन्दुक से हर्ष मानना बंद क्यों नहीं कराती।