बड़ी ख़बरें

सुबह नाश्ते में आइस्क्रीम खाएंगे तो स्मार्ट बनेंगे

Tricity Today Correspondent LifeStyle

आइस्क्रीम के शौकीनों को अपनी पसंदीदा फ्लेवर की आइस्क्रीम खाने का एक और बहाना मिल गया है। दरअसल, जापान की क्योरिन यूनिवर्सिटी के हालिया अध्ययन में आइस्क्रीम को मानसिक क्षमता में इजाफे में असरदार करार दिया गया है। शोधकर्ताओं के मुताबिक आइस्क्रीम मानव मस्तिष्क को न सिर्फ नई सूचनाएं ग्रहण करने में अधिक सक्षम बनाती है, बल्कि उनका विश्लेषण कर किसी निष्कर्ष पर पहुंचने में भी करती है। इसके नियमित सेवन से जहां एकाग्रता बढ़ती है, वहीं स्ट्रेस हार्मोन ‘कॉर्टिसोल’ के उत्पादन में लगातार कमी आती जाती है।

 

अध्ययन के दौरान शोधकर्ताओं ने 50 प्रतिभागियों को तीन गुटों में बांटा। पहले गुट को नाश्ते में आइस्क्रीम खाने को दी, जबकि दूसरे की प्लेट में फास्टफूड परोसा। तीसरे गुट में शामिल प्रतिभागियों को सिर्फ एक गिलास पानी पिलाया गया। इसके बाद शोधकर्ताओं ने गणित और रीजनिंग पर आधरित टेस्ट के जरिए सभी प्रतिभागियों का बौद्धिक कौशल व तर्क शक्ति आंकी। उन्होंने पाया कि नाश्ते में आइस्क्रीम खाने वाले प्रतिभागियों ने टेस्ट में सबसे अच्छा प्रदर्शन किया तो फास्टफूड का  सेवन करने वालों ने सबसे खराब। दरअसल, आइस्क्रीम खाने वाले प्रतिभागियों के मस्तिष्क में अल्फा-तरंगें तेजी से सूचनाओं का विश्लेषण कर रही थीं। इससे उन्हें सवाल का जवाब खोजने में कम मशक्कत करनी पड़ी थी।