Compensation

More Stories

21 साल बाद प्राधिकरण को अतिरिक्त कीमत नहीं चुकाई जाएगी, आवंटियों का ऐलान
21 साल बाद प्राधिकरण को अतिरिक्त कीमत नहीं चुकाई जाएगी, आवंटियों का ऐलान
शनिवार को शहर के सेक्टर स्वर्ण नगरी की आरडब्लूए ने एक आपात बैठक का आयोजन किया। सेक्टर के निवासियों ने बताया कि पिछले 10 दिनों से स्वर्ण नगरी के निवासियों को ग्रेटर नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण अवैध प्रतिकर की वसूली के लिए नोटिस भेज रहा है। नोटिसों को लेकर ही आपात बैठक का आयोजन किया गया। बैठक की अध्यक्षता आरडब्लूए स्वर्ण नगरी के राजेश भाटी अध्यक्ष ने की और संचालन आरएस पुंडीर ने किया।
दुष्कर्म से पैदा बच्चा भी मुआवजे का हकदारः हाईकोर्ट
दुष्कर्म से पैदा बच्चा भी मुआवजे का हकदारः हाईकोर्ट
दिल्ली हाईकोर्ट ने स्पष्ट किया कि यदि दुष्कर्म से कोई बच्चा पैदा होता है तो वह अपनी मां को मिले मुआवजे से अलग से मुआवजा पाने का हकदार है। अदालत ने कहा बच्चे की मां को बतौर पीड़ित मिले मुआवजे का इससे कोई असर नहीं पड़ेगा। अदालत ने नाबालिग बेटी से दुष्कर्म के दोषी को मिली आजीवन कारवास की सजा को चुनौती अपील खारिज करते हुए यह टिप्पणी की।
जेवर एयरपोर्ट के किसानों को अब तक 2,093.41 करोड़ रुपये मुआवजा मिला
जेवर एयरपोर्ट के किसानों को अब तक 2,093.41 करोड़ रुपये मुआवजा मिला
गौतमबुद्ध नगर जिला प्रशासन ने शुक्रवार को जेवर अन्तरराष्ट्रीय ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट जेवर के लिए ग्राम दयानतपुर में 38 हेक्टेयर जमीन की नौंवी किस्त किसानों से अधिग्रहीत करके यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण को सौंपी है। प्रशासन सिर्फ उन किसानों की जमीन अधिग्रहीत कर रहा है, जिन किसानों ने अपनी जमीन का मुआवजा ले लिया है।
ग्रेटर नोएडा के 25 हजार आवंटियों से वसूली करेगा प्राधिकरण, कहीं आप तो शामिल नहीं
ग्रेटर नोएडा के 25 हजार आवंटियों से वसूली करेगा प्राधिकरण, कहीं आप तो शामिल नहीं
ग्रेटर नोएडा के लगभग 50 विभिन्न सेक्टरों में रहने वाले 25 हजार लोगों को ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण ने दिवाली से ठीक पहले जोरों का झटका दिया है। विकास प्राधिकरण किसानों को इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश पर 64.7 प्रतिशत अतिरिक्त मुआवजा दे रहा है। अब प्राधिकरण यह धनराशि सेक्टरों में रहने वाले आवंटियों से वसूल करेगा। आवंटित भूखंड के सापेक्ष 1,287 रुपये प्रति वर्ग मीटर की दर से यह वसूली की जा रही है। इस रकम पर 1 मई 2013 से लेकर अब तक का 11 प्रतिशत ब्याज भी देना होगा।
चार गुना मुआवजे के लिए महापंचायत
चार गुना मुआवजे के लिए महापंचायत
हजरतपुर गांव में प्राधिकरण के खिलाफ धरना दे रहे किसानों ने चार गुना मुआवजा और 20 प्रतिशत के विकसित प्लॉट आदि की मांग की है। जिसके लिए 07 नवंबर को धरना स्थल पर महापंचायत बुलाई हैं। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि वर्ष 2009 में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने हजरतपुर गांव की जमीन का अधिग्रहण किया थाहजरतपुर गांव में प्राधिकरण के खिलाफ धरना दे रहे किसानों ने चार गुना मुआवजा और 20 प्रतिशत के विकसित प्लॉट आदि की मांग की है। जिसके लिए 07 नवंबर को धरना स्थल पर महापंचायत बुलाई हैं। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि वर्ष 2009 में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने हजरतपुर गांव की जमीन का अधिग्रहण किया था। हजरतपुर गांव में प्राधिकरण के खिलाफ धरना दे रहे किसानों ने चार गुना मुआवजा और 20 प्रतिशत के विकसित प्लॉट आदि की मांग की है। जिसके लिए 07 नवंबर को धरना स्थल पर महापंचायत बुलाई हैं। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि वर्ष 2009 में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने हजरतपुर गांव की जमीन का अधिग्रहण किया था। हजरतपुर गांव में प्राधिकरण के खिलाफ धरना दे रहे किसानों ने चार गुना मुआवजा और 20 प्रतिशत के विकसित प्लॉट आदि की मांग की है। जिसके लिए 07 नवंबर को धरना स्थल पर महापंचायत बुलाई हैं। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि वर्ष 2009 में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने हजरतपुर गांव की जमीन का अधिग्रहण किया था। हजरतपुर गांव में प्राधिकरण के खिलाफ धरना दे रहे किसानों ने चार गुना मुआवजा और 20 प्रतिशत के विकसित प्लॉट आदि की मांग की है। जिसके लिए 07 नवंबर को धरना स्थल पर महापंचायत बुलाई हैं। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि वर्ष 2009 में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने हजरतपुर गांव की जमीन का अधिग्रहण किया था। हजरतपुर गांव में प्राधिकरण के खिलाफ धरना दे रहे किसानों ने चार गुना मुआवजा और 20 प्रतिशत के विकसित प्लॉट आदि की मांग की है। जिसके लिए 07 नवंबर को धरना स्थल पर महापंचायत बुलाई हैं। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि वर्ष 2009 में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने हजरतपुर गांव की जमीन का अधिग्रहण किया था। हजरतपुर गांव में प्राधिकरण के खिलाफ धरना दे रहे किसानों ने चार गुना मुआवजा और 20 प्रतिशत के विकसित प्लॉट आदि की मांग की है। जिसके लिए 07 नवंबर को धरना स्थल पर महापंचायत बुलाई हैं। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि वर्ष 2009 में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने हजरतपुर गांव की जमीन का अधिग्रहण किया था।
ग्रेटर नोएडा के 25 हजार आवंटियों से वसूली करेगा प्राधिकरण, कहीं आप तो शामिल नहीं
ग्रेटर नोएडा के 25 हजार आवंटियों से वसूली करेगा प्राधिकरण, कहीं आप तो शामिल नहीं
ग्रेटर नोएडा के लगभग 50 विभिन्न सेक्टरों में रहने वाले 25 हजार लोगों को ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण ने दिवाली से ठीक पहले जोरों का झटका दिया है। विकास प्राधिकरण किसानों को इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश पर 64.7 प्रतिशत अतिरिक्त मुआवजा दे रहा है। अब प्राधिकरण यह धनराशि सेक्टरों में रहने वाले आवंटियों से वसूल करेगा। आवंटित भूखंड के सापेक्ष 1,287 रुपये प्रति वर्ग मीटर की दर से यह वसूली की जा रही है। इस रकम पर 1 मई 2013 से लेकर अब तक का 11 प्रतिशत ब्याज भी देना होगा।
चार गुना मुआवजे के लिए महापंचायत
चार गुना मुआवजे के लिए महापंचायत
हजरतपुर गांव में प्राधिकरण के खिलाफ धरना दे रहे किसानों ने चार गुना मुआवजा और 20 प्रतिशत के विकसित प्लॉट आदि की मांग की है। जिसके लिए 07 नवंबर को धरना स्थल पर महापंचायत बुलाई हैं। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि वर्ष 2009 में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने हजरतपुर गांव की जमीन का अधिग्रहण किया थाहजरतपुर गांव में प्राधिकरण के खिलाफ धरना दे रहे किसानों ने चार गुना मुआवजा और 20 प्रतिशत के विकसित प्लॉट आदि की मांग की है। जिसके लिए 07 नवंबर को धरना स्थल पर महापंचायत बुलाई हैं। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि वर्ष 2009 में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने हजरतपुर गांव की जमीन का अधिग्रहण किया था। हजरतपुर गांव में प्राधिकरण के खिलाफ धरना दे रहे किसानों ने चार गुना मुआवजा और 20 प्रतिशत के विकसित प्लॉट आदि की मांग की है। जिसके लिए 07 नवंबर को धरना स्थल पर महापंचायत बुलाई हैं। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि वर्ष 2009 में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने हजरतपुर गांव की जमीन का अधिग्रहण किया था। हजरतपुर गांव में प्राधिकरण के खिलाफ धरना दे रहे किसानों ने चार गुना मुआवजा और 20 प्रतिशत के विकसित प्लॉट आदि की मांग की है। जिसके लिए 07 नवंबर को धरना स्थल पर महापंचायत बुलाई हैं। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि वर्ष 2009 में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने हजरतपुर गांव की जमीन का अधिग्रहण किया था। हजरतपुर गांव में प्राधिकरण के खिलाफ धरना दे रहे किसानों ने चार गुना मुआवजा और 20 प्रतिशत के विकसित प्लॉट आदि की मांग की है। जिसके लिए 07 नवंबर को धरना स्थल पर महापंचायत बुलाई हैं। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि वर्ष 2009 में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने हजरतपुर गांव की जमीन का अधिग्रहण किया था। हजरतपुर गांव में प्राधिकरण के खिलाफ धरना दे रहे किसानों ने चार गुना मुआवजा और 20 प्रतिशत के विकसित प्लॉट आदि की मांग की है। जिसके लिए 07 नवंबर को धरना स्थल पर महापंचायत बुलाई हैं। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि वर्ष 2009 में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने हजरतपुर गांव की जमीन का अधिग्रहण किया था। हजरतपुर गांव में प्राधिकरण के खिलाफ धरना दे रहे किसानों ने चार गुना मुआवजा और 20 प्रतिशत के विकसित प्लॉट आदि की मांग की है। जिसके लिए 07 नवंबर को धरना स्थल पर महापंचायत बुलाई हैं। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि वर्ष 2009 में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने हजरतपुर गांव की जमीन का अधिग्रहण किया था।