Noida-Greater Noida Metro: गलती करने पर होगा जुर्माना, कैसे मिलेगा टिकट, कैसे पूरी की गईं तैयारियां, सुबह से दौड़ेगी मेट्रो

Noida-Greater Noida Metro: गलती करने पर होगा जुर्माना, कैसे मिलेगा टिकट, कैसे पूरी की गईं तैयारियां, सुबह से दौड़ेगी मेट्रो

Tricity Today | NMRC ने की पूरी तैयारियां

Noida-Greater Noida: सोमवार की सुबह से Aqua Line पर मेट्रो (नोएडा-ग्रेटर नोएडा के बीच) का संचालन शुरू होगा। कोरोना से लोगों को बचाने के लिए Noida Metro Rail Corporation (NMRC) ने रविवार को पुख्ता इंतजाम किए हैं। दरअसल, मामूली से गलती भारी पड़ सकती है। एनएमआरसी ने अलग-अलग गलतियों के जुर्माना भी तय कर दिया है। 

मास्क नहीं पहनने और थूकने पर जुर्माना देना पड़ेगा
नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन से मिली जानकारी के मुताबिक मेट्रो ट्रेन के अंदर सफर शुरू होने और गंतव्य स्टेशन से बाहर निकलने तक मुसाफिर को मास्क लगाना होगा। सीसीटीवी से सभी यात्रियों की निगरानी होगी। मास्क नहीं पहनने पर 500 रुपए का जुर्माना होगा। इसी तरह स्टेशन परिसर में भी बिना मास्क लागए पकड़े जाने पर 500 रुपए का जुर्माना भरना पड़ेगा। मेट्रो ट्रेन के अंदर और बाहर स्टेशन परिसर में कहीं भी थूकने पर पहली बार में 100 रुपए और दूसरी बार में 500 रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा।

इन तीन विकल्पों के जरिए मिलेगा टिकट
कोरोना संकट के दौरान कांटेक्ट लेस टिकटिंग की व्यवस्था की गई है। इसके लिए मुसाफिरों को तीन विकल्प दिए गए हैं। स्मार्ट कॉर्ड का प्रयोग करें। एनएमआरसी के मोबाइल एप से क्यूआर कोड जनरेट करके किराया भुगतान कर सकते हैं। मोबाइल में आए क्यूआर कोड को एंट्री व एक्जिट गेट पर लगाने की जरूरत नहीं होगी। इसकी स्केनिंग बिना टच किए हो जाएगी। यह कांटेक्ट लेस सफर करने का बेहतर विकल्प है। तीसरे विकल्प के तहत पेपर जनरेट क्यूआर कोड टिकट मिलेगा। यह कांउटर से लिया जा सकेगा। एनएमआरसी ने सलाह दी है कि इसका कम से कम प्रयोग ही किया जाए।

हर स्टेशन पर दो पीपीई किट उपलब्ध हैं
कोरोना संदिग्ध यात्री मिलने पर उसे आइसोलेट करने का पूरा इंतजाम किया गया है। मेट्रो के कर्मचारी उसके संपर्क में नहीं आएं, इसके लिए स्टेशनों पर पीपीई किट उपलब्ध कराई गई हैं। इसके अलावा ग्लव्ज और मास्क भी पर्याप्त संख्या में स्टेशनों पर कर्मचारियों के लिए उपलब्ध रहेंगे।

ई-रिक्शों में केवल दो लोगों को यात्रा करने की अनुमति
आने वाले दिनों में स्टेशनों से भी ई-रिक्शे चलाने की अनुमति दे दी जाएगी। सामाजिक दूरी को ध्यान में रखते हुए हर रिक्शे में सिर्फ 2 लोगों को ही बैठने की अनुमति दी जाएगी।

मेट्रो स्टेशनों पर Dont और Does की जानकारी दी जाएगी
स्टेशन में प्रवेश करने पर सवारियों को क्या करना है और क्या नहीं करना है, इसके बारे में पूरी जानकारी डिस्पले बोर्ड व उद्घोषणा के जरिए दी जाएगी। वीडियो के माध्यम से भी ट्रेन के अंदर व बाहर लोगों को जागरूक किया जाएगा। अधिकारियों का कहना है कि पूरा प्रयास है कि मेट्रो चलाने के बावजूद कोरोना को फैलने से रोका जा सके।

थर्मल सेंसर व थर्मामीटर हर स्टेशन पर
सवारियों की जांच करने के लिए हर स्टेशन पर पर्याप्त संख्या में थर्मल सेंसर व थर्मामीटर उपलब्ध रहेंगे। अगर कोई उपकरण खराब होता है तो तुरंत दूसरा उपलब्ध करा दिया जाएगा।

37.7 डिग्री तामपान से अधिक को प्रवेश नहीं
अधिकारियों को कहना है कि मेट्रो के अंदर 37.7 डिग्री से अधिक तापमान वाली सवारी को मेट्रो में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा।

भीड़ बढ़ने पर रोक दिया जाएगा प्रवेश
अधिकारियों ने बताया कि कि स्टेशन परिसर में अधिक भीड बढ़ने पर सवारियों का प्रवेश बंद कर दिया जाएगा। व्यवस्था संभालने के लिए स्टेशनों की सुरक्षा में लगे पीएसी के साथ-साथ स्थानीय पुलिस भी रहेगी।

6 स्टेशन पर दो और बाकी पर एक-एक गेट ही खुलेगा
इस लाइन के 6 स्टेशन सेक्टर-50, 51, 76, नॉलेज पार्क-2, परी चौक और डिपो स्टेशन पर दोनों ओर 1-1 गेट खुला रहेगा जबकि बाकी सभी 15 स्टेशन पर एक ओर का ही गेट खोला जाएगा। इन्हीं से सवारियों के प्रवेश व निकासी की व्यवस्था होगी।

विशेष अनुरोध पर ही खोली जाएगी लिफ्ट
इस लाइन के सभी 21 स्टेशन पर लिफ्ट बंद रखने का निर्णय लिया गया है। बुजुर्ग, दिव्यांग आदि के लिए विशेष अनुरोध पर ही लिफ्ट की सुविधा दी जा सकती है।

सीसीटीवी कंट्रोल रूम से होगी निगरानी
हर स्टेशन व कोच के अंदर भीड़ की निगरानी सीसीटीवी कैमरों के जरिए की जाएगी। कंट्रोल रूम में बैठे कर्मचारी नियमित रूप से इस पर नजर रखेंगे।

लगातार चलेगा संक्रमण मुक्त अभियान
लिफ्ट, एएफसी गेट, हैंडल, एस्कीलेटर, पओएस मशीन सहित हर उस चीज को लगातार संक्रमण मुक्त् किया जाएगा जहां पर सवारियों के शरीर के छूने की संबंधित चीजें हैं। इसके अलावा पूरे स्टेशन परिसर की रात में सफाई व संक्रमण मुक्त किया जाएगा।

ये नियम अपनाने होंगे

  1. प्लेटफॉर्म पर जाते समय एस्कीलेटर पर दूसरी सवारी से तय दूरी पर खड़े हो
  2. स्टेशन परिसर पर बने निशान पर ही सवारी को खड़ा होना होगा
  3. कोच के अंदर एक-एक सीट छोड़कर बैठना होगा
  4. मास्क पहने सवारी को ही मिलेगी प्रवेश की अनुमति
  5. हर सवारी की होगी थर्मल स्क्रीनिग
  6. आरोग्य सेतु एप होना और उसमें ग्रीन स्टेटस के बाद ही स्टेशन में मिलेगा प्रवेश
  7. सवारी से कम से कम 1 मीटर की सामाजिक दूरी रखनी होगी
  8. एएफसी गेट को टच करने से बचें

 

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.