बड़ी ख़बरें

शर्मनाक: जनाजे में जा रहे भारतीयों पर पाकिस्तानी सेना ने बरसाई गोलियां 

Tricity Today Reporter, Delhi

एलओसी पर पाकिस्तान की ओर से सीजफायर तो आम बात है लेकिन इस बार पाकिस्तानी सेना ने शर्म की सारी हदें तोड़ दीं। पाकिस्तानी सैनिकों ने शुक्रवार को जम्मू कश्मीर के पुंछ सेक्टर में जनाजे में जा रहे लोगों पर फायरिंग शुरू कर दी। 16 वर्षीय तनवीर की शुक्रवार को ही पाकिस्तान की ओर से हुई गोलाबारी में मौत हो गयी थी। उसके परिजन उसे एलओसी पर नूरकोट गांव में अपनी जमीन पर ही दफनाना चाहते थे, जो तारबंदी के समीप है। इतना ही नहीं, जब जनाजे के लिए बढ़े तो पाकिस्तान सेना की ओर से गोलियां दागी जाने लगी।

लाउडस्पीकर से फायरिंग रोकने की अपील की


लोग पार्थिक शरीर को दफनाने के लिए सिर्फ इसलिए निकल नहीं पा रहे थे कि पाक की गोलीबारी में किसी और नागरिक की मौत न हो जाये.  इसके बाद स्थानीय मसजिद ने गोलाबारी रोकने की भावुक अपील कर मामले में दखल दिया। विधान परिषद सदस्य जहांगीर मीर के कहा, मस्जिद से लाउडस्पीकर पर घोषणा की गयी कि ‘आपने (पाकिस्तानी सेना) एक शख्स को मार दिया है। गोलाबारी रोक दीजिए।  हम जनाजे की नमाज पढ़ना चाहते हैं। इसके बाद फायरिंग रुकी तो लोग जनाजे की नमाज पढ़ पाए। सीज फायर की घोषणा के 13 साल के दौरान यह पहली घटना है, जब पाक ने जनाजे को रोकने की हरकत की है। वर्ष 2003 के पहले घटनाएं सामान्य थीं। 

एलओसी पर फिर छाया खौफ का साया


गोलाबारी से एलओसी से सटे गांवों में रहनेवाले लोग डरे हुए हैं. लोगों ने सुरक्षित इलाकों की तरफ जाना शुरू कर दिया है. माछेल सेक्टर में तीन भारतीय फौजियों को मार डालने के बदले सेना द्वारा किये गये काउंटर-हमले के बाद तीन हफ्ते तक सीमा पर शांति थी, लेकिन अब पाकिस्तान की ओर से सीजफायर फिर होने लगा है।