दलित महिला के साथ गैंगरेप  के मामले में 25 हजार रुपये का इनामी और मुख्य आरोपी हुआ गिरफ्तार, परिजनों ने की फांसी की मांग

जेवर गैंगरेप मामला : दलित महिला के साथ गैंगरेप  के मामले में 25 हजार रुपये का इनामी और मुख्य आरोपी हुआ गिरफ्तार, परिजनों ने की फांसी की मांग

दलित महिला के साथ गैंगरेप  के मामले में 25 हजार रुपये का इनामी और मुख्य आरोपी हुआ गिरफ्तार, परिजनों ने की फांसी की मांग

Tricity Today | गैंगरेप  के मामले में 25 हजार रुपये का इनामी और मुख्य आरोपी हुआ गिरफ्तार

दलित महिला के साथ गैंगरेप  के मामले में 25 हजार रुपये का इनामी और मुख्य आरोपी हुआ गिरफ्तार, परिजनों ने की फांसी की मांग Gautambudh Nagar News:  कोतवाली जेवर क्षेत्र में एक गांव में रहने वाली (55 वर्षीय) दलित महिला के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म और दरिंदगी के मामले में 25 हजार रुपये के इनामी और मुख्य आरोपी महेंद्र को बुधवार दोपहर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में महिला के परिजनों ने मांग की है कि इस घटना में शामिल सभी आरोपियों को फांसी की सजा दी जाए।

डीसीपी महिला सुरक्षा वृंदा शुक्ला ने बताया कि जेवर गैंगरेप के मुख्य आरोपी महेंद्र को बुधवार दोपहर कोतवाली जेवर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने बताया कि आरोपी से घटना को लेकर गहन पूछताछ की जा रही है। इस मामले में 3 दिन के अंदर ही पुलिस न्यायालय में चार्जशीट दाखिल करेगी और इस मामले की फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई करवाने के लिए वह न्यायालय से अपील करेंगी। डीसीपी ने बताया कि अनुसूचित जाति/ जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत जिला प्रशासन ने पीड़ित को ढाई लाख रुपये धनराशि की पहली मदद दे दी है। इलाज़ के दौरान महिला का सफल ऑपरेशन हो गया है और अब उसकी हालत में सुधार है। डीसीपी ने बताया कि वारदात के दौरान महिला के निजी अंगों में काफी चोट पहुंची थी। डीसीपी ने बताया कि बुधवार को उन्होंने नोएडा के सेक्टर-30 स्थित जिला अस्पताल जाकर पीड़ित महिला से बातचीत की है। उन्होंने बताया कि महिला के बयान में कुछ विरोधाभास है। फॉरेंसिक टीम की सहायता से घटना में शामिल लोगों के बारे में सही जानकारी करने के प्रयास किये जा रहे हैं।

जांच के लिए लैब में भेजे गए सुबूत 
डीसीपी वृंदा शुक्ला ने बताया कि जांच टीम ने घटना से जुड़े साक्ष्य सहित खून के नमूने, पीड़िता के कपड़े, चप्पल, व घटनास्थल से नमूने के रूप में ली गयी घास को गाजियाबाद के निवाड़ी स्थित फॉरेंसिक लैब में भेज दिया है।

यह थी घटना 
कोतवाली जेवर क्षेत्र में एक गांव में रहने वाली एक (55 वर्षीय) दलित महिला रविवार सुबह गांव के पास स्थित जंगल में घास काटने गई थी। इस दौरान महिला के गांव में ही रहने वाले महेंद्र ने अपने तीन साथियों के साथ मिलकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया था। बदमाशों ने महिला के साथ दरिंदगी करते हुए उसके निजी अंगों में काफी चोट पहुंचाई थी जिससे उसकी हालत ज्यादा खराब हो गई थी। पुलिस ने 11 अक्टूबर को इस मामले में फरार एक आरोपी देवदत्त उर्फ़ देबू को गिरफ़्तार कर लिया था, अब बुधवार को मामले में शामिल मुख्य आरोपी और 25  हज़ार रुपये के इनामी महेंद्र को भी गिरफ्तार कर लिया है। अभी इस घटना को अंजाम देने वाले 2 आरोपी फरार हैं जिनकी पुलिस तलाश कर रही है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.